ताज़ा खबर
 

HSBC की प्राइवेट बैंकिंग सेवा बंद होगी, भारत से कारोबार समेटने वाला तीसरा बैंक

HSBC Holdings 2016 की पहली तिमाही तक कारोबार बंद करने की प्रक्रिया पूरी कर लेगी।

Author मुंबई | November 28, 2015 9:10 AM
एचएसबीसी इंडिया 2016 की पहली तिमाही तक भारत से प्राइवेट बैंकिंग कारोबार समेट लेगा।

एचएसबीसी ने भारत में अपना प्राइवेट बैंकिंग कारोबार बंद करने का फैसला किया है। शुक्रवार को एचएसबीसी इंडिया के प्रवक्‍ता ने यह जानकारी दी। हाल के वर्षों में भारत से निजी बैंकिंग कारोबार समेटने वाला यह तीसरा विदेशी बैंक है। इससे पहले रॉयल बैंक ऑफ स्‍कॉटलैंड और मॉर्गन स्‍टैनले ने भारत से कारोबार समेट लिया था। कुछ समय पहले जब भारत की अर्थव्‍यवस्‍था तेजी पर थी तो विदेशी बैंकों में भारत आने की होड़ लगी थी। पर अब वे धीरे-धीरे यहां से जा रहे हैं।

इन बैंकों ने भारत में धनकुबेरों की बढ़ती संख्‍या के मद्देनजर यहां अपना कारोबार जमाया था। धनकुबेर तो अभी भी बढ़ रहे हैं, लेकिन इन बैंकों को मनमाफिक मुनाफा नहीं हो रहा है। एचएसबीसी होल्डिंग्‍स के प्रवक्‍ता ने मुंबई में बताया कि बैंक के भारतीय ग्राहकों का खाता एचएसबीसी प्रीमियर में ट्रांसफर किया जा सकता है। एचएसबीसी प्रीमियर बैंक का ग्‍लोबल रिटेल बैंकिग व वेल्‍थ मैनेजमेंट प्‍लैटफॉर्म है।

HOT DEALS
  • Sony Xperia XZs G8232 64 GB (Ice Blue)
    ₹ 34999 MRP ₹ 51990 -33%
    ₹3500 Cashback
  • Micromax Vdeo 2 4G
    ₹ 4650 MRP ₹ 5499 -15%
    ₹465 Cashback

एचएसबीसी के भारत में कुल 32 हजार कर्मचारी हैं। एचएसबीसी प्राइवेट बैंकिंग में 70 स्‍टाफ हैं। बैंक कितने लोगों का और कितना असेट मैनेज करता है, इस बारे में जानकारी नहीं मिल पाई है। लेकिन सूत्र बताते हैं कि एचएसबीसी प्राइवेट बैंकिंग टॉप तीन में शामिल नहीं है। शायद यही वजह है कि एशिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्‍यवस्‍था वाले देश भारत से कंपनी ने कारोबार समेटने का फैसला किया है। यह प्रक्रिया 2016 की पहली तिमाही तक पूरी हो जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App