KYC के बिना भी SBI में खोल सकते हैं जीरो बैलेंस सेविंग्‍स अकाउंट, यह है तरीका

अकाउंट में कभी भी 50,000 रुपए से ज्यादा नहीं होना चाहिए। इस अकाउंट से एक महीने में 10,000 रुपए से ज्यादा का विड्रॉल नहीं होना चाहिए। पूरे 1 वित्त वर्ष में कुल जमा 1,00,000 रुपए से ज्यादा नहीं होना चाहिए।

SBI
एसबीआई। (Image source-Reuters)

State Bank of India (SBI) में अगर आप जीरो बैलेंस पर अकाउंट खुलवाना चाहते हैं तो खुलवा सकते हैं। यह अकाउंट बिना वैलिड KYC डॉक्यूमेंट्स के भी खुलवाया जा सकता है। बैंक का कहना है कि स्मॉल अकाउंट के लिए खाताधाकरक की उम्र 18 साल होनी चाहिए। अगर खाताधाकर पूरे केवाईसी डॉक्यूमेंट्स जमा करा देता है तो उसका स्मॉल अकाउंट सेविंग अकाउंट में बदल सकता है। हम आपको स्टेट बैंक के स्मॉल अकाउंट से जुड़ी कुछ जरूरी बातें बताने जा रहे हैं। खाता खुलवाने वाले को बैंक अधिकारी के सामने अपने साइन या अंगूठा लगाकर अपना फोटो अटेस्ट करना होगा। इस अकाउंट में मिनिमम जीरो बैलेंस और अधिकतम 50,000 रुपए रख सकते हैं। खाते में जमा पैसे पर मिलने वाले ब्याज की बात करें तो इसमें जमा पैसे पर 3.5 फीसदी सालाना का ब्याज मिलेगा। इस खाते के लिए स्टेट बैंक रूपे डेबिट कार्ड जारी करेगा। इसका कोई चार्ज नहीं लगेगा। इसका सालाना भी कोई चार्ज नहीं लगेगा। इस खाते से किए गए लेनेदेन पर भी कोई चार्ज नहीं लगेगा। इसके अलावा इस खाते को बंद करने पर भी कोई चार्ज नहीं लगेगा।

इसका रखें ख्याल
अकाउंट में कभी भी 50,000 रुपए से ज्यादा नहीं होना चाहिए। इस अकाउंट से एक महीने में 10,000 रुपए से ज्यादा का विड्रॉल नहीं होना चाहिए। पूरे 1 वित्त वर्ष में कुल जमा 1,00,000 रुपए से ज्यादा नहीं होना चाहिए। अगर अकाउंट का बैलेंस 50,000 रुपए से ज्यादा हुआ और वित्त वर्ष में टोटल क्रेडिट एक लाख रुपए से ज्यादा हुआ तो पूरी केवाईसी के बिना आप कोई ट्रांजेक्शन नहीं कर पाएंगे। खाते से एक महीने में केवल 4 बार ही पैसा निकाल सकते हैं। चाहे वह आप एनईएफटी करें, RTGS,ATM या चेक किसी भी माध्यम से किया हो। इसके बाद कस्टरम कोई विड्रॉल नहीं कर सकता है। विदेश से इस अकाउंट में कोई पैसा नहीं मंगवाया जा सकता, जब तक कि आधिकारिक रुप से ऑफिशियल डॉक्यूमेंटेशन न हो जाए।

शुरुआत में एसबीआई स्माल अकाउंट 12 महीनों के लिए खुलता है। अगर खाताधारक 12 महीने बाद वैलिड डॉक्यूमेंट्स बैंक में जमा करा देता है या फिर डॉक्यूमेंट बनवाने के लिए दिए हैं इसका सबूत दे देता है तो उसे 12 महीने का और समय मिल जाता है। कुल मिलाकर 24 महीने का समय मिल जाता है। अगर 24 महीने में जरूरी पेपर्स जमा नहीं कराए जाते हैं तो खाते को बंद करने के अलावा और कोई ट्रांजेक्शन नहीं की जा सकती है। स्मॉल अकाउंट को रेगुलर सेविंग अकाउंट या बेसिक सेविंग बैंक डिपॉजिट अकाउंट में होम ब्रांच द्वारा ही बदला जा सकता है। जरूरी दस्तावेज जमा करने के बाद भी अकाउंट नंबर नहीं बदलेगा।

पढें व्यापार समाचार (Business News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X