ताज़ा खबर
 

मोराटोरियम पर HDFC चेयरमैन दीपक पारेख बोले, लोन पर छूट न बढ़ाएं, गलत फायदा उठा रहे हैं कुछ लोग

देश के दिग्गज प्राइवेट बैंक के चेयरमैन दीपक पारेख ने भारतीय रिजर्व बैंक से अपील की है कि कोरोना काल में लोन की अदायगी पर छूट को अब और आगे न बढ़ाया जाए। फिलहाल सभी तरह के टर्म लोन्स की किस्तों की अदायगी पर अगस्त तक के लिए छूट का विकल्प दिया गया है।

deepak parekhएचडीएफसी बैंक के चेयरमैन दीपक पारेख

देश के दिग्गज प्राइवेट बैंक के चेयरमैन दीपक पारेख ने भारतीय रिजर्व बैंक से अपील की है कि कोरोना काल में लोन की अदायगी पर छूट को अब और आगे न बढ़ाया जाए। फिलहाल सभी तरह के टर्म लोन्स की किस्तों की अदायगी पर अगस्त तक के लिए छूट का विकल्प दिया गया है। इसे बढ़ाने को लेकर बीते कुछ दिनों से चर्चाएं चल रही हैं, लेकिन अब तक रिजर्व बैंक की ओर से इस पर पर कुछ नहीं कहा गया है। इस बीच दीपक पारेख ने कहा कि अब मोराटोरियम की अवधि को बढ़ाना नहीं चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसे भी कई कर्जधारक हैं, जो आसानी से लोन अदा कर सकते हैं, लेकिन वे इस छूट का बेजा इस्तेमाल कर रहे हैं।

दीपक पारेख ने कहा, ‘प्लीज मोरटोरियम पीरियड को और न बढ़ाएं क्योंकि हम देख रहे हैं कि जो लोग लोन चुकाने की हालत में हैं, चाहे वो कोई शख्स हो या कंपनी-वो भी इस स्कीम का फायदा ले रहे हैं। ऐसी बात चल रही हैकि इस स्कीम को अगले तीन महीने के लिए बढ़ाया जा सकता है।’ उनकी इस सलाह को लेकर आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने भी अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि पारेख की कई बातें वाजिब हैं, लेकिन इस पर अभी तत्काल कोई टिप्पणी नहीं की जा सकती। कनफेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री से बातचीत के दौरान गवर्नर ने यह बात कही।

बता दें कि आरबीआई की ओर से मार्च से मई तक के लिए किस्तों में अदायगी की राहत दी गई थी। इसके बाद लॉकडाउन में इजाफा होने के बाद इस छूट को भी अगस्त तक के लिए बढ़ा दिया गया था। हालांकि इस दौरान भले ही किस्तों की अदायगी में छूट दी गई है, लेकिन ब्याज में कोई राहत नहीं दी गई है। यह राहत पर्सनल लोन, होम लोन, ऑटो लोन समेत क्रेडिट कार्ड्स के बकाये पर भी दी गई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 तालाब में डूबने से बचे, जानलेवा हमले से बचे… जानें, कैसे 7 बार मौत के मुंह से बाहर निकले बाबा रामदेव
2 केंद्र सरकार की 58 कंपनियों से ज्यादा है मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज का मार्केट कैपिटलाइजेशन
3 जानें, दिल्ली में फूड सिक्योरिटी के लिए आप कैसे ऑनलाइन करा सकते हैं अपना रजिस्ट्रेशन, आसान है प्रक्रिया
IPL 2020 LIVE
X