ताज़ा खबर
 

HDFC Results: एचडीएफसी को मार्च तिमाही में हुआ 2,232.5 करोड़ रुपये का मुनाफा, 3 फीसदी से ज्यादा बढ़ा रेवेन्यू

HDFC Quarter result: देश के दिग्गज प्राइवेट बैंक एचडीएफसी को मार्च में समाप्त हुई तिमाही में 2,232.5 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है। बीते साल के मुकाबले एचडीएफसी को 22 फीसदी की गिरावट का सामना करना पड़ा है।

hdfc bankएचडीएफसी बैंक को मार्च तिमाही में हुआ 2,233 करोड़ रुपये का मुनाफा

देश के दिग्गज प्राइवेट बैंक एचडीएफसी को मार्च में समाप्त हुई तिमाही में 2,232.5 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है। बीते साल के मुकाबले एचडीएफसी को 22 फीसदी की गिरावट का सामना करना पड़ा है। बीते साल इसी अवधि में कंपनी ने 2,861.58 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया था। हालांकि कंपनी के रेवेन्यू में 3.4 पर्सेंट का इजाफा हुआ है।

एचडीएफसी ने 31 मार्च को समाप्त हुई तिमाही में 11,976 करोड़ रुपये का राजस्व हासिल हुआ है, जो बीते साल के मुकाबले 3.4 फीसदी अधिक है। कोरोना संकट के चलते मार्च के आखिरी पखवाड़े में आर्थिक गतिविधियां कमजोर होने के बावजूद एचडीएफसी के रेवेन्यू में इजाफा होना उत्साहजनक है।

इस बीच एचडीएफसी बैंक ने अपने ग्राहकों को इस लॉकडाउन में राहत देते हुए ब्याज दरें घटा दी है। बैंक ने बेस रेट 0.55 फीसदी घटाकर 8.10 फीसदी कर दिया है। इस फैसले के बाद बेस रेट पर आधारित सभी लोन की किस्तें 0.55 फीसदी तक घट जाएंगी। आपको बता दें कि एक जुलाई 2010 (लेकिन 1 अप्रैल 2016 के पहले ) के बाद लिए गए सभी होम लोन बेस रेट पर आधारित हैं। इस मामले में बैंकों को यह स्वतंत्रता दी गई है कि वे कॉस्ट ऑफ फंड्स की गणना औसत फंड कोस्ट के हिसाब से करें या एमसीएलआर के हिसाब से करें।

क्‍लिक करें Corona Virus, COVID-19 और Lockdown से जुड़ी खबरों के लिए और जानें लॉकडाउन 4.0 की गाइडलाइंस

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Covid-19 Vaccine Latest Update: कोरोना से निपटने की दो दवाओं का आखिरी ट्रायल अगले महीने होगा शुरू
2 ड्राइविंग लाइसेंस और वाहन फिटनेस सर्टिफिकेट की फीस पर सरकार ने लॉकडाउन में दी बड़ी राहत
3 कोरोना संकट के बाद बदलेगा सैलरी स्ट्रक्चर, रिइंबर्समेंट में शामिल होंगी अब नई चीजें, वाई-फाई, होम ऑफिस फर्नीचर के लिए मिलेगा पैसा