बैंक स्टेटमेंट पर ही मिल जाएगा 10 लाख रुपए तक का ओवरड्राफ्ट, नहीं देनी होगी कोई गारंटी

कोविड-19 महामारी का अर्थव्यवस्था पर प्रतिकूल असर पड़ा है। इससे छोटे दुकानदार भी प्रभावित हुए हैं। इन दुकानदारों को वित्तीय मदद उपलब्ध कराने के मकसद से एचडीएफसी बैंक ने दुकानदार ओवरड्राफ्ट स्कीम लॉन्च की है।

Hdfc Bank, hdfc bank news
बैंक के निदेशक मंडल ने एक अहम फैसला लिया है

यदि आप दुकानदार है और आपको अपना कारोबार बढ़ाने के लिए पैसे की जरूरत है तो एचडीएफसी बैंक आपके लिए एक खास ऑफर लेकर आया है। दरअसल एचडीएफसी बैंक ने स्पेशल पर्पज व्हीकल सीएससी के साथ मिलकर ओवरड्राफ्ट स्कीम शुरू की है। इस स्कीम को ‘दुकानदार ओवरड्राफ्ट स्कीम’ नाम दिया गया है।

स्कीम के तहत रिटेलर्स, दुकानदार और गांव स्तर के उद्यमियों को ओवरड्राफ्ट की सुविधा मिलेगी। तीन साल से ज्यादा समय से कारोबार कर रहे दुकानदार किसी भी बैंक की पिछले 6 महीने की बैंक स्टेटमेंट दिखाकर एचडीएफसी बैंक से ओवरड्राफ्ट स्कीम ले सकते हैं। इस स्कीम के तहत दुकानदारों को बैंक स्टेटमेंट के आधार पर 50 हजार से लेकर 10 लाख रुपए तक की ओवरड्राफ्ट सुविधा मिलेगी। इस सुविधा का लाभ लेने के लिए दुकानदारों को ना गारंटी देनी होगी और ना ही इनकम टैक्स रिटर्न दिखाना होगा।

छोटे ट्रेडर्स के लिए है स्कीम: एचडीएफसी बैंक की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि दुकानदारों को इस स्कीम का लाभ देने के लिए कागजी प्रक्रिया काफी कम किया गया है। यह नई स्कीम मौजूदा समय को देखते हुए छोटे दुकानदारों के लिए तैयार की गई है।

स्कीम को दो भागों में बांटा: बैंक ने इस स्कीम को दो भागों में बांटा है। पहले भाग में 6 साल से कम समय से कारोबार कर रहे दुकानदारों को शामिल किया गया है। इन दुकानदारों को बैंक स्टेटमेंट के आधार पर 7.5 लाख रुपए तक का ओवरड्राफ्ट दिया जाएगा। दूसरे भाग में 6 साल से ज्यादा समय से कारोबार कर रहे दुकानदारों को शामिल किया गया है। इनको 10 लाख रुपए तक के ओवरड्राफ्ट की सुविधा दी जाएगी।

ये है योग्यता: इस स्कीम के तहत केवल दुकान या कारोबार के प्रॉपराइटर को ही ओवरड्राफ्ट की सुविधा दी जाएगी। स्कीम का लाभ लेने के लिए कम से कम 6 महीने का बैंक स्टेटमेंट होना जरूरी है। दुकानदार जिस बैंक की स्टेटमेंट उपलब्ध कराएगा, वह उसका कम से कम 15 महीने से ग्राहक होना चाहिए।

एचडीएफसी बैंक की गवर्मेंट एंड इंस्टीट्यूशनल बिजनेस की कंट्री हेड स्मिता भगत का कहना है कि कोविड-19 के कारण ग्लोबल इकोनॉमी पिछले 1 साल से अप्रत्याशित परिस्थितियों का सामना कर रही है। इसका असर छोटे कारोबारों पर भी पड़ा है। इन छोटे कारोबारियों को संभाले रखने के लिए एचडीएफसी बैंक ने सीएससी के साथ मिलकर यह ओवरड्राफ्ट स्कीम लॉन्च की है।

पढें व्यापार समाचार (Business News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।