ताज़ा खबर
 

HDFC बैंक ने बचत खाते को लेकर बदले नियम-कायदे, जानिए अब कितना रखना पड़ेगा न्यूनतम बैलेंस

अगर आपका खाता एचडीएफसी बैंक में है, तो यह खबर आपके काम की साबित हो सकती है।

निजी क्षेत्र का दूसरा सबसे बड़ा बैंक है एचडीएफसी। (फाइल फोटो)

अगर आपका खाता एचडीएफसी बैंक में है, तो यह खबर आपके काम की साबित हो सकती है। बैंक ने शुक्रवार को बचत खाते से जुड़े कुछ नियम कायदे बदले हैं। नए मानदंडों के मुताबिक, बैंक के क्लासिक श्रेणी वाले ग्राहकों को बचत खाते में न्यूनतम एक लाख रुपए हर महीने रखने होंगे। जबकि, बचत खाते और एफडी साथ रखने पर यह रकम न्यूनतम पांच लाख रुपए रखी गई है। बचत खाते के लिए पहले न्यूनतम बैलेंस की रकम त्रैमासिक एक लाख रुपए थी। वहीं, बचत खाते और टर्म डिपॉजिट के साथ उन्हें पांच लाख रुपए कम से कम खाते में रखने पड़ते थे। यह नियम आगामी नौ दिसंबर से प्रभाव में आएंगे।

बैंक ने इससे पहले आरटीजीएस और एनईएफटी के जरिए किए जाने वाले ऑनलआइन लेन-देन को फ्री कर दिया था। बैंक का यह फैसला एक नवंबर से अमल में लागा गया था। क्लासिक श्रेणी में आने वाले खाताधारकों और उनके परिजन को ढेर सारे फायदे मिलते हैं, जिसमें कई निवेश से जुड़ी चीजें भी शामिल होती हैं। खास बात है कि इस खाते के तहत आपकी आर्थिक जरूरतों का ख्याल रखने के लिए एक व्यक्तिगत बैंक कर्मी भी होता है। वह समय समय पर खाताधारकों की जरूरतों से अवगत होता रहता है।

क्लासिक श्रेणी वाले ग्राहकों के लिए ये हैं फीस, शुल्क और फायदे-

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App