ताज़ा खबर
 

सब तक एलपीजी पहुंचाएगी सरकार : प्रधान

सरकार ने शुक्रवार को 2016 को ‘एलपीजी उपभोक्ताआें का साल’ घोषित किया। साथ ही 2018 के अंत तक देश में सभी परिवारों को रसोई गैस (एलपीजी) मुहैया कराने की योजना बनाई है..

Author नई दिल्ली | January 1, 2016 23:32 pm
धर्मेंद्र प्रधान। (पीटीआई फाइल फोटो)

सरकार ने शुक्रवार को 2016 को ‘एलपीजी उपभोक्ताआें का साल’ घोषित किया। साथ ही 2018 के अंत तक देश में सभी परिवारों को रसोई गैस (एलपीजी) मुहैया कराने की योजना बनाई है। सरकार का इरादा आॅनलाइन बिल भुगतान सुविधा शुरू करने और पारदर्शी गैस सिलेंडर पेश करने का भी है। पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि 2016 का साल एलपीजी उपभोक्ताओं का वर्ष होगा। हम देशभर में कुकिंग गैस तक पहुंच और उपलब्धता बढ़ाने का प्रयास करेंगे। हमने आगामी तीन कैलेंडर सालों 2016, 2017 और 2018 तक समूची आबादी को एलपीजी उपलब्ध कराने की महत्त्वाकांक्षी योजना बनाई है।

प्रधान देश में रसोई गैस उपभोक्ताओं के लिए एलपीजी इमरजेंसी हेल्पलाइन नंबर 1906 को शुरू किए जाने के मौके पर आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे। उपभोक्ता इस नंबर पर कॉल कर गैस लीक होने आदि की स्थिति में मदद के लिए कह सकते हैं। प्रधान ने मंत्रालय व पेट्रोलियम विपणन कंपनियों के शीर्ष कार्यकारियों से इस नंबर को मुफ्त करने को कहा है। फिलहाल इस नंबर के लिए सामान्य कॉल दर लगेगी। एलपीजी की उपलब्धता के बारे में प्रधान ने कहा कि देश में 27 करोड़ एलपीजी उपभोक्ता हैं। इनमें से 16.5 करोड़ सक्रिय ग्राहक हैं। तेल विपणन कंपनियों के दायरे में करीब 60 फीसद आबादी आती है।

उन्होंने कहा-हम 100 फीसद आबादी तक पहुंचना चाहते हैं। लेकिन हमें कीमत और पहुंच के मुद्दे का ध्यान रखना होगा। हमें उम्मीद है कि अगले तीन साल तक आबादी का एक बड़ा हिस्सा अपनी खरीद क्षमता बढ़ने की वजह से इस सुविधा का लाभ लेगा। एलपीजी आॅनलाइन बिल भुगतान सेवा शुरू करने के बारे में मंत्री ने कहा कि पायलट परीक्षण जारी है। हम इस सेवा को 2016 के कैलेंडर साल में शुरू करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App