scorecardresearch

नए साल पर Google देगा भारत को सौगात, सौ रेलवे स्टेशनों पर शुरू करेगा Wi-Fi

प्रौद्योगिकी क्षेत्र की प्रमुख कंपनी गूगल अगले साल तक देश के सौ रेलवे स्टेशनों पर इंटरनेट संपर्क सुगम बनाने के लिए वाई-फाई की व्यवस्था शुरू कर देगी।

Google के CEO सुदंर पिचई
प्रौद्योगिकी क्षेत्र की प्रमुख कंपनी गूगल अगले साल तक देश के सौ रेलवे स्टेशनों पर इंटरनेट संपर्क सुगम बनाने के लिए वाई-फाई की व्यवस्था शुरू कर देगी। यह बात बुधवार को कंपनी के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुंदर पिचई ने कही। अमेरिका की यह कंपनी भारत में सब तक इंटरनेट सुविधा पहुंचाने के प्रयासों पर ध्यान दे रही है और यह परियोजना उसी का हिस्सा है। इसे रेलवे के उपक्रम रेलटेल के साथ मिलकर लागू किया जा रहा है।

पिचई ने ‘गूगल फॉर इंडिया’ समारोह में कहा कि दिसंबर 2016 तक सौ स्टेशनों में वाई-फाई की सुविधा होगी। मुंबई सेंट्रल स्टेशन पर वाई-फाई की सुविधा आगामी जनवरी से चालू हो जाएगी। यह रेलवे मंत्रालय के उपक्रम रेलटेल के साथ भागीदारी में किया जा रहा है। भारतीय रेल की दूरसंचार इकाई रेलटेल ने गूगल इंडिया की अनुषंगी इकाई के साथ समझौता किया है जिसके तहत देश भर के 400 स्टेशनों में वाई-फाई की व्यवस्था की जाएगी। पिचई अपनी दो दिन की भारत यात्रा के दौरान राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे। वह दिल्ली विश्वविद्यालय के एक कॉलेज के छात्रों को भी संबोधित करेंगे।

भारत में जन्मे गूगल के सीईओ पिचई ने कहा कि हमारा जोर सभी तक इंटरनेट पहुंचाना है और यह सुनिश्चित करना है कि हमारे उत्पाद उनके लिए सार्थक हों और हमारा प्लेटफार्म इंटरनेट तक उन्हें अपनी आवाज पहुंचाने की अनुमति दे। उन्होंने कहा कि कंपनी भारत में खासकर इंजीनियरिंग के काम के लिए अपने कर्मचारियों की संख्या बढ़ा रही है।

पिचई ने कहा कि गूगल बंगलुरु और हैदराबाद के लिए नियुक्ति की योजना बना रही है। हम क्षमता के विकास के लिए हैदराबाद में एक बड़ा परिसर बनाएंगे। उन्होंने कहा कि महिलाओं को आनलाइन पहुंच में मदद के गूगल के प्रयास के तहत कंपनी अपने कार्यक्रम का देशभर में विस्तार कर रही है। उन्होंने कहा कि पायलट परियोजना के बाद हम अगले तीन साल में कार्यक्रम का विस्तार कर इसके दायरे में तीन लाख गांवों को लाएंगे।

 

पढें अपडेट (Newsupdate News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट