ताज़ा खबर
 

भारत की जीडीपी वृद्धि दर इस साल 7.9% रहने का अनुमान: गोल्डमैन

गोल्डमैन साक्स का कहना है कि जीडीपी वृद्धि में क्रमिक सुधार की संभावना है और अप्रैल जून तिमाही में यह मामूली घटकर 7.8 प्रतिशत रह सकती है।

Author नई दिल्ली | August 25, 2016 5:50 PM
वैश्विक वित्तीय सेवा कंपनी गोल्डमैन साक्स

वैश्विक वित्तीय सेवा कंपनी गोल्डमैन साक्स ने गुरुवार (25 अगस्त) को कहा कि बेहतर मॉनसून, सरकारी वेतनमान में वृद्धि, प्रमुख सुधारों और विदेशी निवेश प्रवाह के चलते मौजदूा वित्त वर्ष में भारत की आर्थिक वृद्धि दर 7.9 प्रतिशत रहने का अनुमान है। गोल्डमैन साक्स का कहना है कि जीडीपी वृद्धि में क्रमिक सुधार की संभावना है और अप्रैल जून तिमाही में यह मामूली घटकर 7.8 प्रतिशत रह सकती है। इससे पिछली तिमाही में यह 7.9 प्रतिशत रही थी।

फर्म ने अपनी एक रपट में कहा है, ‘वित्त वर्ष 2016-17 में हमारा अनुमान है कि वास्तविक जीडीपी वृद्धि दर सालाना आधार पर 7.9 प्रतिशत रहेगी जो कि 7.5 प्रतिशत की आम अपेक्षा से ऊंची है। यह वित्त वर्ष 2015-16 की वृद्धि दर 7.6 प्रतिशत की तुलना में भी अधिक है।’

इसके अनुसार बेहतर मॉनसून, केंद्रीय सरकारी कर्मचारियों को नए वेतन आयोग के कार्यान्वयन, अनुकूल राजकोषीय मौद्रिक नीति, हाल ही में पारित प्रमुख सुधारों तथा सतत विदेशी निवेश अंतरप्रवाह से वृद्धि को बल मिलेगा।’ हालांकि, रपट के अनुसार भारत की वृद्धि दर को प्रमुख जोखिमों में अमेरिकी फेडरल रिजर्व की ब्याज दर में बढ़ोतरी, चीन की वृद्धि को लेकर चिंताएं तथा पूंजी प्रवाह की आशंका शामिल है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App