ताज़ा खबर
 

कमजोर मांग से सोना 31000रुपए/10 ग्राम, चांदी में 350 रुपए की गिरावट

राष्ट्रीय राजधानी, दिल्ली में सोना 99.9 और 99.5 शुद्धता के भाव 70-70 रुपए की गिरावट के साथ क्रमश: 31,000 रुपए और 30,850 रुपए प्रति दस ग्राम पर बंद हुए।

Author नई दिल्ली | Published on: September 16, 2016 7:13 PM
फरवरी में इससे भी निचले स्तर पर था सोना । (पीटीआई फाइल फोटो)

विदेशों में कमजोरी के रुख के बीच घरेलू हाजिर बाजार में आभूषण विक्रेताओं की सुस्त मांग के चलते दिल्ली सर्राफा बाजार में शुक्रवार (16 सितंबर) को सोना 70 रुपए की गिरावट के साथ 31,000 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया। औद्योगिक इकाइयों और सिक्का निर्माताओं की कमजोर उठान के कारण चांदी भी 350 रुपए की गिरावट के साथ 45,100 रुपए प्रति किलो पर बंद हुई। बाजार सूत्रों ने कहा कि विदेशों में कमजोरी के रुख के अलावा घरेलू हाजिर बाजार में आभूषण विक्रेताओं और फुटकर विक्रेताओं की मांग घटने से सोने की कीमतों में गिरावट आई।

वैश्विक स्तर पर सिंगापुर में सोने के भाव 0.08 प्रतिशत की गिरावट के साथ 1,313.10 डालर प्रति औंस और चांदी के भाव 0.13 प्रतिशत की गिरावट के साथ 18.93 डॉलर प्रति औंस रह गए। राष्ट्रीय राजधानी, दिल्ली में सोना 99.9 और 99.5 शुद्धता के भाव 70-70 रुपए की गिरावट के साथ क्रमश: 31,000 रुपए और 30,850 रुपए प्रति दस ग्राम पर बंद हुए। यह स्तर तीन सितंबर को देखने को मिला था।

गुरुवार को ‘अनंत चतुर्थी’ त्यौहार और ‘गणेश विसर्जन’ के कारण सर्राफा बाजार बंद थे। हालांकि गिन्नी के भाव 24,400 रुपए प्रति आठ ग्राम के पूर्वस्तर पर ही बंद हुए। चांदी तैयार के भाव 350 रुपए की गिरावट के साथ 45,100 रुपए और चांदी साप्ताहिक डिलीवरी के भाव पांच रुपए की गिरावट के साथ 45,580 रुपए किलो पर बंद हुए। हालांकि चांदी सिक्कों के भाव लिवाल 75000 रुपए और बिकवाल 76000 रुपए प्रति सैंकड़ा पर अपरिवर्तित बंद हुए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 ब्याज दरें तय करते समय निचली मुद्रास्फीति का ध्यान रखेगा रिजर्व बैंक: अरुण जेटली
2 सुब्रत राय पर सुप्रीम कोर्ट की मेहरबानी, पैरोल की अवधि 23 सितंबर तक बढ़ायी
3 चंडीगढ़ से अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू, एयरपोर्ट के ‘मोहाली’ नाम पर पंजाब-हरियाणा में विवाद