ताज़ा खबर
 

24 घंटेे बाद पुराने दाम पर ही लौटा सोना, चांदी 100 रुपए गिरी

औद्योगिक मांग कमजोर पड़ने से दिल्ली सर्राफा बाजार में आज चांदी के भाव 100 रूपये की गिरावट के साथ 41,400 रूपये प्रति किलो रह गये ।

मांग के अभाव में कम हुआ चांदी का भाव, सोने के भाव में भी आई गिरावट

औद्योगिक मांग कमजोर पड़ने से दिल्ली सर्राफा बाजार में आज चांदी के भाव 100 रूपये की गिरावट के साथ 41,400 रूपये प्रति किलो रह गये । वहीं विदेशों में मजबूत रूख के बावजूद छिटपुट लिवाली के कारण सोने के भाव पूर्वस्तर 28450 रूपये प्रति दस ग्राम पर स्थिर बने रहे।
बाजार सूत्रों के अनुसार औद्योगिक इकाइयों और सिक्का निर्माताओं की मांग में कमी के चलते चांदी में गिरावट आयी । सिंगापुर में सोने के भाव 0,41 प्रतिशत बढ कर 1162,70 डालर और चांदी के भाव 1,13 प्रतिशत की तेजी के साथ 17,07 डालर प्रति औंस हो गये। चांदी तैयार के भाव 100 रूपये की गिरावट के साथ 41400 रूपये और चांदी साप्ताहिकी डिलीवरी के भाव 10 रूपये टूट कर 41480 रूपये प्रति किलो बंद हुए।
चांदी सिक्का के भाव पूर्वस्तर 72000: 73000 रूपये प्रति सैकड़ा पर स्थिर बने रहे । सोना 99,9 और 99,5 शुद्वता के भाव छिटपुट लिवाली के चलते पूर्वस्तर क्रमश: 28,450 रूपये और 28,300 रूपये प्रति दस ग्राम पर अपरिवर्तित बंद हएु । गिन्नी के भाव भी बिना किसी उतार चढाव के पूर्वस्तर पर 24200 रूपये प्रति आठ ग्राम पर स्थिर बने रहे ।

जबकि बीते दिन नोटबंदी से बाजार में नकदी की दिक्कतों से मांग में कमी आने और विदेशों में कमजोरी के रुख के बीच दिल्ली सर्राफा बाजार में आज सोने का भाव 100 रुपए घट कर 28,450 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया था। इसके विपरीत औद्योगिक इकाइयों तथा सिक्का विनिर्मातों की ओर से उठाव बढ़ने से चांदी 100 रुपए की तेजी के साथ 41,500 रुपए प्रति किलोग्राम पर पहुंच गयी थी। बाजार सूत्रों ने कहा कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व की दो दिनों की नीतिगत बैठक आज शुरु होने के पहले डॉलर के मजबूत होने और सोने में गिरावट आने से वैश्विक बाजार में सोने की कीमतों पर दवाब रहा। फेडरल रिजर्व की बैठक के संदर्भ में अनुमान है कि वे नीतिगत सख्ती बरतते हुए ब्याज दर में वृद्धि कर सकते हैं जिससे सुरक्षित निवेश के विकल्प के बतौर सोने की अपील कम हो गयी। वैश्विक स्तर पर सिंगापुर में सोना 0.09 प्रतिशत की गिरावट के साथ 1,160.90 डॉलर प्रति औंस रहा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App