ताज़ा खबर
 

Goa Budget 2018 Highlights: मनोहर पर्रिकर ने पेश किया 17,123.28 करोड़ रुपये का बजट

Goa Budget 2018 Highlights (गोवा बजट २०१८): गोवा का वित्त मंत्रालय अभी मुख्यमंत्री के पास ही है। आज गोवा का बजट पेश होना है। राज्य के बजट को पेश करने के लिए सीएम गोवा विधानसभा जा सकते हैं।

Goa Budget 2018: इस बार का बजट पिछले साल के बजट से 6.84 फीसदी ज्‍यादा है। राजस्‍व सरप्‍लस 144.61 करोड़ रुपये है।

Goa Budget 2018 Highlights: गोवा के मुख्‍यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने गुरुवार (22 फरवरी) को विधानसभा में बजट पेश किया। वह मुंबई के लीलावती अस्‍पताल से डिस्‍चार्ज किये जाने के कुछ ही घंटों बाद विधानसभा पहुंचे। पर्रिकर ने अपने बजट भाषण की शुरुआत शुभचिंतकों को धन्‍यवाद व्‍यक्‍त करने से की। उन्‍होंने कहा, ”मेरे स्‍वास्‍थ्‍य ने मुझे विस्‍तृत बजट पेश करने से रोक दिया। आज पेश किया जा रहा बजट सिर्फ अंतरिम व्‍यवस्‍था है। नई योजनाएं 1 अप्रैल से लागू होंगी।’ पर्रिकर ने सदन में सरप्‍लस बजट पेश किया। बजट कुल 17,123.28 करोड़ रुपये का है, जो कि पिछले साल के बजट से 6.84 फीसदी ज्‍यादा है। राजस्‍व सरप्‍लस 144.61 करोड़ रुपये है। केंद्रीय टैक्‍स में राज्‍य के अंश में 17 फीसदी की बढ़ोत्‍तरी देखने को मिली है। औद्योगिक श्रम और रोजगार क्षेत्र के लिए बजट में 548.89 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

माना जा रहा है कि वह अपनी सेहत को लेकर एक प्रेस कॉन्‍फेंस को संबोधित कर सकते हैं। वह अग्नाशय संबंधी बीमारी की वजह से 15 फरवरी से लीलावती अस्पताल में भर्ती थे। गोवा विधानसभा के डिप्टी स्पीकर माइकल लोबो ने कहा, “भगवान ने सबकी प्रार्थनाएं सुन लीं।”

Goa Budget 2018 Highlights UPDATES:

– बजट कुल 17,123.28 करोड़ रुपये का है, जो कि पिछले साल के बजट से 6.84 फीसदी ज्‍यादा है। राजस्‍व सरप्‍लस 144.61 करोड़ रुपये है।

 पर्रिकर ने अपने बजट भाषण की शुरुआत शुभचिंतकों को धन्‍यवाद व्‍यक्‍त करने से की। उन्‍होंने कहा, ”मेरे स्‍वास्‍थ्‍य ने मुझे विस्‍तृत बजट पेश करने से रोक दिया।

पर्रिकर को फूड पॉइजनिंग की शिकायत के बाद लीलावती अस्पताल में भर्ती किया गया था। मुख्यमंत्री कार्यालय ने कहा था कि वह अग्नाशय संबंधित बीमारी से जूझ रहे हैं।

 सीएम मनोहर पर्रिकर अपनी सेहत को लेकर एक प्रेस कॉन्‍फेंस को संबोधित कर सकते हैं। वह अग्नाशय संबंधी बीमारी की वजह से 15 फरवरी से लीलावती अस्पताल में भर्ती थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App