ताज़ा खबर
 

गौतम अडाणी बोले- मुफ्त में नहीं देता हूं मोदी को हेलिकॉप्‍टर

अरबपति कारोबारी गौतम अडाणी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से करीबी की खबरों का खंडन किया है। उन्‍होंने कहा कि उन्‍हें नहीं प ता कि वे क्‍यों निशाना बनाए जा रहे हैं।

अडानी समूह के चेयरमैन और अरबपति कारोबारी गौतम अडानी। (फाइल फोटो)

अरबपति कारोबारी गौतम अडाणी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से करीबी की खबरों का खंडन किया है। उन्‍होंने कहा कि उन्‍हें नहीं प ता कि वे क्‍यों निशाना बनाए जा रहे हैं। बिजनेस अखबार इकॉनॉमिक्‍स टाइम्‍स को दिए इंटरव्यू में अडाणी ने इस बारे में कहा, ”हमारे पास चार हेलिकॉप्‍टर हैं। उस समय (2014 आम चुनाव) अहमदाबाद में हमारे पास ही हेलिकॉप्‍टर था। राज्‍य सरकार भी हमारे चॉपर का इस्‍तेमाल करती है। और मोदी ही क्‍यों? आज भी वर्तमान सीएम हमारे हेलिकॉप्‍टर का इस्‍तेमाल करती हैं। इसके लिए वे हमें भुगतान करते हैं। क्‍या दूसरी पार्टियां ऐसा नहीं करतीं? कांग्रेस जीएमआर के हेलिकॉप्‍टर का उपयोग नहीं करती? सब इसके बारे में क्‍यों नहीं बोल रहे हैं? केवल मोदी ही क्‍यों? वे अडाणी के हेलिकॉप्‍टर को फ्री में इस्‍तेमाल नहीं करते।”

राज्‍यसभा में JDU MP ने कहा- सरकार के 72 हजार करोड़ रुपए दबाए बैठे हैं अडाणी, हर दौरे पर होते हैं मोदी के साथ

पीएम से करीबी की खबरों को हवा देकर क्‍या उन्‍हें निशाना बनाया जा रहा है, इस पर अडाणी ने कहा, ”हमें इस सरकार ने किसी तरह की तरजीह नहीं दी है। अडाणी ग्रुप अपने प्रोजेक्‍ट समय पर पूरा करने के लिए जाना जाता है। अब उसकी चर्चा होती तो अच्‍छा भी लगता है। पहले हम पर आरोप था कि हम केवल गुजरात में काम करते हैं। अब हम 12 राज्‍यों में हैं। हम किसी पार्टी या व्‍यक्ति से फेवर नहीं मांगते। हम मदद ले सकते हैं लेकिन वह भी कानूनी दायरे में।”

अडानी ग्रुप के पक्ष में बोले ऑस्ट्रेलिया के पीएम, कहा खतरनाक होगा कोल प्रोजेक्ट को रद्द करना

उन्‍होंने कहा कि भारतीय उद्योग जगत के कई कारोबारी अभी भी मोदी के नो फेवरिट स्‍टाइल में काम करने के तरीके को समझ रहे हैं। अडाणी ने कहा कि कांग्रेस जानबूझकर उन पर हमले बोल रही है। इसके जरिए वह अपनी राजनीति करना चाहती है।

Next Stories
1 अब राजधानी एक्सप्रेस के टिकट पर कीजिए Air India का सफर, चार रूट पर शुरू हुई सुविधा
2 Panama Papers: आयकर विभाग ने दर्जन भर देशों से किया संपर्क
3 अमेरिका यात्रा पर गडकरी, बुनियादी ढांचे में निवेश का देंगे न्यौता
ये पढ़ा क्या?
X