ताज़ा खबर
 

गौतम अडानी का देश की इकोनॉमी पर बड़ा प्रि‍डिक्‍शन, सरकार की सोच से तीन गुना का लगाया अनुमान

भारत सरकार ने देश की इकोनॉमी को 5 ट्रि‍लियन की इकोनॉमी बनाने का टारगेट रखा है। इस टारगेट को पाने में कोरोना वायरस बहुत बड़ा रुकावट बना है। अब गौतम अडानी ने सरकार के टारगेट से 3 गुना इकोनॉमी बनने की बात कही है।

1990 के दशक में अडानी समूह के एक कर्मचारी ने गलती होने की वजह से अपना इस्तीफा गौतम अडानी को सौंपा। तो उन्होंने कर्मचारी के सामने ही इस्तीफे को फाड़ कर फेंक दिया। (एक्सप्रेस आर्काइव)

प्री कोविड समय के दौरान देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाने का ऐलान किया था। उन्‍होंने इसके लिए एक टारगेट भी सेट किया था, लेकिन किसे पता था कोरोना वायरस सिर्फ भारत ही नहीं बल्‍क‍ि पूरी दुनिया की इकोनॉमी को काफी नीचे लाकर खड़ा दिया। अब देश के दिग्‍गज उद्योगपति गौतम अडानी ने देश की इकोनॉमी को लेकर बड़ा बयान दिया है।

सरकार ने 2025 तक देश की इकोनॉमी को 5 ट्रिलियन डॉलर इकॉनमी बनाने का टारगेट रखा है। वहीं अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी इससे भी आगे बढ़ गए हैं। गौतम अडानी का कहना है कि मिडल क्लास के दम पर भारत अगले 2 दशक में 15 ट्रिलियन डॉलर की इकॉनमी बन जाएगा। उन्‍होंने कहा कि कंजंप्‍शन और मार्केट कैप दोनों के लिहाज से देश का सबसे बड़ा बाजार होगा।

अडानी इंटरप्राइजेज के शेयर होल्‍डर्स को संबोधित करते हुए गौतम अडानी ने कहा कि आने वाले 4 सालों में भारत 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनमी बन जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रत्‍येक महामारी के बाद नए मौके बनते हैं। इस महामारी के दौरान देश और दुनिया को काफी कुछ सीखने का मौका मिला है। उन्‍होंने आगे बढ़ते हुए कहा कि आने वाले दो दशकों में देश की इकोनॉमी 15 ट्रिलियन डॉलर से ज्‍यादा होगी। जिसके रास्‍ते में कई रुकावटें भी आ सकती है। भारत के विशाल मध्य वर्ग, वर्किंग एज और कंज्यूमिंग पॉपुलेशन में लगातार इजाफा होने से देश की उन्‍नति में पॉजिट‍िव इंपैक्‍ट होगा।

गौतम अडानी ने कंपनी के शेयर होल्‍डर्स को जानकारी देते हुए कहा कि बीते हुआ वर्ष काफी कठिन था, लेकिन कंपनियों ने अभूतपूर्व परिस्थितियों से गुजरते हुए अपने लिए नए रास्ते बनाए। कठिन परिस्थितियों का सामना करते हुए सफर तय किया और अधिक मजबूत बने हैं। गौतम अडानी के अनुसार ग्रुप की लिस्टि‍ड कंपनियों के शानदार प्रदर्शन के कारण इस नए वित्त वर्ष के पहले सप्ताह हमारा पोर्टफोलियो मार्केट कैपिटलाइजेशन 100 अरब डॉलर को पार कर गया है। टाटा ग्रुप और रिलायंस इंडस्ट्रीज के बाद यह उपलब्धि हासिल करने वाला अडानी ग्रुप देश का तीसरा औद्योगिक घराना है।

 

Next Stories
1 गौतम अडानी फैलाने जा रहे हैं अपना पोर्ट कारोबार, अब इस बंदरगाह को खरीदने की है तैयारी
2 फिर बंद किया गया सदर बाजार
3 देश का विदेशी मुद्रा भंडार रेकॉर्ड ऊंचाई पर, 1.013 अरब डॉलर बढ़कर 610.012 अरब डॉलर पहुंचा
ये पढ़ा क्या ?
X