ताज़ा खबर
 

G-20 ने WTO व्यापार समझौते पर भारत-अमेरिका के बीच सहमति का किया स्वागत

जी 20 के नेताओं ने खाद्यान्न भंडारण के मुद्दे पर भारत व अमेरिका के बीच बनी सहमति का स्वागत करते हुए आज उम्मीद जताई कि इससे विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) की बातचीत फिर पटरी पर आ जाएगी तथा व्यापार सरलीकरण समझौते के कार्यान्वयन का मार्ग प्रशस्त होगा जो कि आर्थिक वृद्धि तथा रोजगार सृजन के […]

Author November 16, 2014 15:35 pm
जी 20 के नेताओं ने खाद्यान्न भंडारण के मुद्दे पर भारत व अमेरिका के बीच बनी सहमति का स्वागत किया (फोटो: भाषा)

जी 20 के नेताओं ने खाद्यान्न भंडारण के मुद्दे पर भारत व अमेरिका के बीच बनी सहमति का स्वागत करते हुए आज उम्मीद जताई कि इससे विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) की बातचीत फिर पटरी पर आ जाएगी तथा व्यापार सरलीकरण समझौते के कार्यान्वयन का मार्ग प्रशस्त होगा जो कि आर्थिक वृद्धि तथा रोजगार सृजन के लिए जरूरी है।

जी 20 बैठक के बाद जारी बयान में कहा गया है, ‘हम अमेरिका तथाभारत के बीच बनी सहमति का स्वागत करते हैं जिससे व्यापार सरलीकरण समझौते (टीएफए) के कार्यान्वयन में मदद मिलेगी और जिसमें खाद्य सुरक्षा के प्रावधान शामिल होंगे।’

बयान में कहा गया है, ‘हम बाली समझौते के सभी पहलुओं के कार्यान्वयन को लेकर तथा दोहा विकास एजेंडे के बाकी मुद्दों पर डब्ल्यूटीओ कामकाज कार्यकÑम जल्द परिभाषित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं ताकि वार्ताओं को पटरी पर लाया जा सके।’

उल्लेखनीय है कि खाद्य सुरक्षा मामले में भारत को इसी सप्ताह बड़ी सफलता मिली जबकि अमेरिका ने डल्यूटीओ में खाद्य सुरक्षा के बारे में उसके प्रस्ताव पर सहमति जतायी। इससे डब्ल्यूटीओ में व्यापार सरलीकरण समझौते (टीएफए) को लेकर तीन महीने से चल रहे गतिरोध को दूर करने का रास्ता साफ हो गया।

बयान में कहा गया है, ‘यह बहुपक्षीय व्यापार प्रणाली में भरोसा बहाल करने के लिए महत्वपूर्ण है। हमने अगले साल की बैठक में इस प्रणाली को बेहतर बनाने के उपायों पर विचार विमर्श पर सहमति जताई है। हमने जरूरतमंद विकासशील देशों को व्यापार के लिए मदद जारी रखने का फैसला किया है।’
इसके साथ ही जी20 नेताओं ने खुली वैश्विक अर्थव्यवस्था में मजबूत कारोबार प्रणाली का आह्वान किया ताकि आर्थिक वृद्धि तेज की जा सके और रोजगार सृजन हो सकें।

बयान में कहा गया है, ‘हम नयी कंपनियों तथा निवेश के लिए बाधाओं को कम से कम करते हुए प्रतिस्पर्धा, उद्यमशीलता तथा नवोन्मेष को बढावा दे रहे हैं।’

इसके अनुसार जी20 यह सुनिश्चित करने के लिए काम करेगा कि द्विपक्षीय, क्षेत्रीय तथा बहुपक्षीय समझौते एक दूसरे के पूरक हों ताकि व्यापार समझौतों का सबसे बेहतर इस्तेमाल किया जा सके।

इसमें कहा गया है, ‘मौजूदा तथा भावी चुनौतियों के अनुसार काम करने वाला मजबूत व प्रभावी डब्ल्यूटीओ जरूरी है।’

जी20 शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरें्रद मोदी सहित अन्य विश्व नेता शामिल हुए।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App