ताज़ा खबर
 

ट्रेन में महंगा होगा बच्चों का सफर करना, 50% किराया भरने पर नहीं मिलेगी कनफर्म सीट

अब तक ट्रेन में बच्चों के आधा किराया देने पर बच्चों को सीट मिल जाती थी, लेकिन हाल ही रेल मंत्रालय की ओऱ से 5 से 11 साल तक के बच्चों के किराए के नियम में बदलाव किया गया है।

अब तक ट्रेन में बच्चों के आधा किराया देने पर बच्चों को सीट मिल जाती थी, लेकिन हाल ही रेल मंत्रालय की ओऱ से 5 से 11 साल तक के बच्चों के किराए के नियम में बदलाव किया गया है। नए नियम के मुताबिक ट्रेन में यात्रा कर रहे 5 से 11 साल के बच्चों का उनके पेरेंट्स को आधा किराया तो भरना पड़ेगा लेकिन उन्हें कमफर्म सीट नहीं मिलेगी। क्योंकि नई पॉलिसी के मुताबिक अब अगर किसी बच्चे के पेरेंट्स को उसके लिए सीट चाहिए तो उन्हें पूरा किराया भरना पड़ेगा।

क्योंकि अब 50 फीसदी किराए से उन्हें सीट नहीं मिलेगी। रेलवे मंत्रालय की ओऱ से जारी नया नियम 10 अप्रैल 2016 से लागू किया जाएगा। हाल ही रेल मंत्रालय ने इस नियम का नोटफिकेशन जारी कर दिया है और अगले साल से ये नियम लागू हो जाएगा। जानकारी के मुताबिक रेलवे ने अपने सॉफ्टवेयर में भी बदलाव करेगा।

जिसमें अब ये ऑप्शन होगा कि जैसी ही आप बच्चों की उम्र डालेंगे उसमें पूछा जाएगा कि क्या आप पूरी बर्थ चाहते हैं? हां पर क्लिक करते ही रेलवे पूरी सीट अलाट कर देगा। ऑप्शन आते ही बच्चों की कंफर्म सीट पर देना होगा पूरा किराया। इसी ऑप्शन पर अगर आपने न पर क्लिक किया तो आधा किराया लगेगा लेकिन सीट नहीं दी जाएगी।

इसके अलावा टिकट काउंटर पर भरे जाने वाले फॉर्म भी इसके लिए अलग से क़ॉलम बनाए जाएंगे। बताते दें कि ये नया नियम स्लीपर से लेकर एसी तक के क्लास तक के किराए में लागू होगा। ऐसे में रेल मंत्रालय की ओऱ से अब बच्चों का रिजर्वेशन कर दिया गया है। इसकी ज्यादा जानकारी के लिए आप www.indianrailways.gov.in/railwayboard पर क्लिक कर हासिल कर सकते हैं।

 

Next Stories
1 चीन ही नहीं, समंदर में पाकिस्‍तान भी पेश कर रहा कड़ी चुनौती, जानिए अब क्‍या करेगा भारत?
2 1984 दंगा: अदालत ने सीबीआई को दिया टाइटलर के खिलाफ नए सिरे से जांच करने का आदेश
3 मुलायम पीएम और राहुल डिप्‍टी पीएम बनें तो बन सकता है अलायंस- अखिलेश यादव ने दिया फार्मूला, चुप रहे कांग्रेस उपाध्‍यक्ष
ये पढ़ा क्या?
X