ताज़ा खबर
 

Freedom 251: Adcom का दावा रिंगिंग बेल्स ने 3600 रुपए में खरीदा फोन, फिर कैसे 251 में स्मार्टफोन बेच रही कंपनी

एडकॉम का कहना है कि उन्हें रिंगिंग बेल्स की मूल्य नीति भी समझ में नहीं आई क्योंकि एडकॉम की तरफ से रिंगिंग बेल्स को 3600 रुपये में फोन बेचा गया था।

Author नई दिल्ली | March 5, 2016 4:36 PM
रिंगिंग बेल्स ने अपने 251 रुपये के स्मार्टफोन के लांच के दिन जिस फोन को दिखाया था उस फोन के एडकॉम लिखा हुआ था। (फाइल फोटो)

रिंगिंग बेल्स जिस फोन को 251 रुपए में बेच रही है, वह उसने एडकॉम से 3600 रुपए में खरीदा है। इस बात का खुलासा खुद एडकॉम ने किया है। काफी समय से इस बात की चर्चा है कि रिंगिंग बेल्‍स मात्र 251 रुपए में किस प्रकार से फोन बेच रही है। कुछ दिनों पहले कंपनी के मालिक मोहित गोयल ने एक अखबार से बातचीत में दावा किया था कि वह 251 रुपए में फोन बेचकर भी 31 रुपए का मुनाफा कमा रहे हैं। हालांकि, उन्‍होंने यह साफ नहीं किया था वह किस प्रकार से यह मुनाफा कमा रहे हैं। मोहित के गोयल के दावे से इतर टेलिकॉम मिनिस्‍ट्री फ्रीडम 251 की कीमत कम से कम 2600 रुपए बता चुकी है।

एडुकॉम ने कहा है कि अगर रिंगिंग बेल्स की हरकतों से उनके ब्रांड पर कोई असर पड़ता है तो वह रिंगिंग बेल्स के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेंगे। एडकॉम ने कहा है कि उन्होंने 3600 रुपये प्रति यूनिट की दर से रिंगिंग बेल्स को फोन की बिक्री की है।

रिंगिंग बेल्स ने अपने 251 रुपये के स्मार्टफोन के लांच के दिन जिस फोन को दिखाया था उस फोन के एडकॉम लिखा हुआ था। एडुकॉम का फोन भारत में पहले से ही 3999 रुपये में मौजूद है।

एडकॉम की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि उनकी कंपनी अन्य ग्राहकों की तरह ही रिंगिंग बेल्स को अपने फोन की बिक्री की थी, लेकिन उन्हें रिंगिंग बेल्स की तरफ से इसे दोबारा बेचे जाने के बारे में कोई जानकारी नहीं थी।

एडकॉम का कहना है कि उन्हें रिंगिंग बेल्स की मूल्य नीति भी समझ में नहीं आई क्योंकि एडकॉम की तरफ से रिंगिंग बेल्स को 3600 रुपये में फोन बेचा गया था। रिंगिंग बेल्स पर संचार मंत्रालय की भी नजर है।

रिंगिंग बेल्स ने कहा था कि वह नोएडा व उत्तराखंड में अपना यूनिट लगाएगी जहां फोन का निर्माण किया जाएगा। मात्र 251 रुपये में फोन बेचने की घोषणा के बाद मात्र दो दिनों में 6 करोड़ से अधिक लोगों ने फोन खरीदने के लिए अपना पंजीयन करा लिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App