8 महीनों में 56 बिलि‍यन डॉलर से ज्‍यादा बढ़ी विदेशी दौलत, रिकॉर्ड लेवल पर पहुंचा

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 8.895 अरब डॉलर बढ़कर 642.453 अरब डॉलर की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया है। जबकि इस साल करीब 8 महीने में यह इजाफा 56 बिलियन डॉलर से ज्‍यादा हो गया है।

forex reserve, india forex reserve, foreign exchange, forex reserve, Raghuram Rajan, RBI, rupee, Urjit Patel, Reserve bank of india
भारत का विदेशी मुद्रा भंडार अब तक के उच्चतम स्‍तर पर पहुंच गया है।

भारत की विदेशी दौलत में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है। मौजूदा समय में भारत का विदेशी मुद्रा 642 अरब डॉलर से ज्‍यादा हो गया है। जोकि रिकॉर्ड लेवल पर पहुंच गया है। अगर बात बीते 8 महीने या यूं कहें कि इस साल भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में 56 बिलियन डॉलर से ज्‍यादा हो गया है। वहीं तीन सितंबर को खत्‍म हुए सप्‍ताह में विदेशी मुद्रा भंडार में करीब 9 अरब डॉलर का इजाफा देखने को मिला है।

दो सप्‍ताह में 25 बिलियन डॉलर का इजाफा
देश का विदेशी मुद्रा भंडार तीन सितंबर को समाप्त सप्ताह में 8.895 अरब डॉलर बढ़कर 642.453 अरब डॉलर के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने शुक्रवार को अपने ताजा आंकड़ों में यह जानकारी दी है। विदेशी मुद्रा भंडार इससे पिछले 27 अगस्त को समाप्त सप्ताह के दौरान 16.663 अरब डॉलर बढ़कर 633.558 अरब डॉलर हो गया था। यानी पिछले दो बार के आंकड़ों में विदेशी मुद्रा भंडार में 25.558 बिलियन डॉलर की तेजी देखने को मिली है।

आख‍िर क्‍यों हो रहा है इजाफा
भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा शुक्रवार को जारी साप्ताहिक आंकड़ों में दर्शाया गया है कि तीन सितंबर को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार में यह वृद्धि मुख्य तौर पर विदेशी मुद्रा आस्तियों यानी एफसीए के बढ़ने की वजह से हुई है जो कुल मुद्राभंडार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। वहीं उससे पहले जो इजाफा हुआ था, उसका कारण विशेष आहरण अधिकार यानी एसडीआर होल्डिंग्स में वृद्धि होना था। इंटरनेशनल मॉनेटरी फंड ने भारत को 12.57 अरब डॉलर एसडीआर का आवंटन किया था।

आठ महीनों में 56 बिलियन डॉलर से ज्‍यादा की बढ़ोतरी
वहीं बात इस पूरे साल की करें तो अभी तक 56 बिलियन डॉलर से ज्‍यादा का इजाफा देखने को मिल चुका है। 8 जनवरी 2021 को समाप्‍त सप्‍ताह में भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 586.082 अरब डॉलर था, जो तीन सि‍तंबर को समाप्‍त सप्‍ताह में भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 642.453 अरब डॉलर पर आ गया है। यानी इस दौरान भारत का विदेशी मुद्रा भंडार में 56.371 बिलियन डॉलर का इजाफा हो गया है।

असेट्स में भी इजाफा
रिजर्व बैंक ने कहा कि आलोच्य सप्ताह में भारत की विदेशी मुद्रा परिसंपत्‍ति‍यां 8.213 अरब डॉलर बढ़कर 579.813 अरब डॉलर पर पहुंच गई। डॉलर में बताई जाने वाली विदेशी मुद्रा संपत्ति में विदेशी मुद्रा भंडार में रखी यूरो, पाउंड और येन जैसी दूसरी विदेशी मुद्राओं के मूल्य में वृद्धि या कमी का प्रभाव भी शामिल होता है।

गोल्‍ड रिजर्व में भी इजाफा
आंकड़ों के अनुसार, समीक्षाधीन सप्ताह में स्वर्ण आरक्षित भंडार 64.2 करोड़ डॉलर बढ़कर 38.083 अरब डॉलर हो गया। आईएमएफ में देश का विशेष आहरण अधिकार (एसडीआर) 2.9 करोड़ डॉलर बढ़कर 19.437 अरब डॉलर हो गया। जबकि आईएमएफ में देश का आरक्षित विदेशीमुद्रा भंडार 1.1 करोड़ डॉलर बढ़कर 5.121 अरब डॉलर पर पहुंच गया।

पढें व्यापार समाचार (Business News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X