ताज़ा खबर
 

अमेजन के मालिक कभी बेचते थे बर्गर! दिग्गज अरबपतियों की पहली जॉब के बारे में जान रह जाएंगे हैरान

विशाल कंप्यूटर टेक्नोलॉजी कंपनी डेल के संस्थापक माइकल एस. डेल ने अपने करियर की शुरुआत एक चाइनीज होटल से की। माइकल एस. डेल महज 12 साल की उम्र में ही चाइनीज होटल में काम करने लगे थे।

Jeff Bezosजेफ बेजोस ने अपने करियर की पहली नौकरी मैकडोनाल्ड में की थी। (Bloomberg)

दुनियाभर में ऐसे कई उदाहरण हैं जब किसी समय में खूब गरीब रहे लोग आज दुनिया के सबसे अमीरों की लिस्ट में शुमार हैं। इन लोगों ने अपने करियर की शुरुआत में छोटे से छोटे काम किए मगर कभी हिम्मत नहीं हारी और यहीं लोग हजारों करोड़ों रुपए के मालिक हैं। आज हम यहां ऐसी ही कुछ मशहूर हस्तियों के बारे में आपको बताने जा रहे हैं जिन्होंने अपने करियर के शुरुआत में छोटी नौकरी से की।

जेफ बेजोस-
बहुत कम लोग जानते हैं कि दुनिया के सबसे अमीर शख्स के रूप में अपनी पहचान बना चुके जेफ बेजोस ने अपने करियर की पहली नौकरी मैकडोनाल्ड में की थी। जेफ बेजोस बचपन में ही मैकडोनाल्ड में नौकरी करने लगे और फास्ट फूड चैन की किचन में काफी दिनों तक काम किया।

माइकल एस. डेल-
विशाल कंप्यूटर टेक्नोलॉजी कंपनी डेल के संस्थापक माइकल एस. डेल ने अपने करियर की शुरुआत एक चाइनीज होटल से की। माइकल एस. डेल महज 12 साल की उम्र में ही चाइनीज होटल में काम करने लगे थे।

रिचर्ड ब्रैनसन-
एक बैरिस्‍टर के घर पैदा हुए रिचर्ड चार्ल्‍स निकोलस ब्रैनसन ने बीमारी की वजह से 16 वर्ष की उम्र में ही पढ़ाई छोड़ दी थी। पहले उन्‍होंने एक पत्रिका का प्रकाशन शुरू किया। इसे चलाने के लिए ब्रैनसन ने म्‍यूजिक रिकॉर्ड कंपनी खोली। पहले ही अंक में उन्‍हें 8 हजार डॉलर का विज्ञापन मिला था। ब्रैनसन ने विज्ञापन से हुई कमाई को देखते हुए पत्रिका की 50 हजार प्रतियों को मुफ्त में ही बंटवा दिया था। शुरुआती संघर्षों और कठिनाइयों से जूझते हुए ब्रैनसन लगातार आगे बढ़ते रहे और आज वह वर्जिन ग्रुप की 400 से ज्‍यादा कंपनियों के मालिक हैं। कंपनी की शाखाएं 35 से ज्‍यादा देशों तक फैल चुकी हैं, जिनमें तकरीबन 70 हजार कर्मचारी कार्यरत हैं।

इवान स्पीगल-
स्नैप चैट के संस्थापक इवान स्पीगल ने करियर की शुरुआत रेड बुल में एक इंटर्न के रूप में की। एक वेबसाइट की खबर के मुताबिक इवान स्पीगल आज 540 करोड़ यूएस डॉलर के मालिक हैं।

एलन मस्को-
Tesla के संस्थापक एलन मस्को ने अपने करियर की शुरुआत महज 12 साल की उम्र में वीडियो गेम्स के कोड बेचकर की। तब उस वीडियो गेम को Blastard कहा जाता था।

जैक डोर्सी-
सोशल मीडिया के सबसे बड़े प्लेफॉर्म्स में से एक ट्विटर के सीईओ जैक डोर्सी ने एक साक्षात्कार में स्वीकार किया कि उन्होंने एक सॉफ्टवेयर कंपनी के रूप में अपनी पहली नौकरी के लिए एक कंपनी के सर्वर को हैक कर लिया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 7th Pay Commission: इस प्रदेश के कर्मचारियों को मिली बड़ी सौगात, 3.5 लाख कर्मचारियों को होगा फायदा
2 इस मोर्चे पर फेल हो गया केंद्र सरकार का ‘मेक इन इंडिया’ अभियान! इंपोर्ट में जुटी देसी कंपनियां
3 भारत के सबसे अमीर शख्स लेकिन फिर नहीं बढ़ा मुकेश अंबानी का वेतन, जानें कितनी है सालाना सैलरी
ये पढ़ा क्या?
X