ताज़ा खबर
 

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने लोकसभा में पेश किया जीएसटी बिल, लागू होने पर देश की अर्थव्यवस्था में 0.5 फीसदी की होगी बढ़ोतरी

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने जीएसटी से जुड़े चार सहायक बिल सी-जीएसटी, आई-जीएसटी, यूटी-जीएसटी और जीएसटी बिल को पेश किया है।

खबर के मुताबिक, केन्द्र सरकार जीएसटी बिल को 29 से 30 मार्च तक संसद में निचले सदन में इसे पास करने की योजना बना रही है। (photo source – PTI)

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आज (सोमवार) लोकसभा में एक जुलाई से जीएसटी को लागू करने के उद्देश्य से जीएसटी से जुड़े चार बिलों को संसद में पेश किया है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने जीएसटी से जुड़े चार सहायक बिल सी-जीएसटी, आई-जीएसटी, यूटी-जीएसटी और जीएसटी बिल को पेश किया है।

वहीं, इस बिल को देशभर में लागू करने से पहले देश की राज्य विधानसभाओं में इसे पास कराना होगा। जिससे इस बिल को इसी साल देशभर में लागू किया जा सके। बता दें कि केन्द्र सरकार इस साल एक जुलाई से ही इस बिल को लागू करने की योजना बना रही है। कहा जा रहा है कि भारत की आजादी के बाद से ये देश के इतिहास में सबसे बड़ा कर सुधार होगा।

वहीं, माना जा रहा है कि देश में जीएसटी लागू होने के बाद से देश की अर्थव्यवस्था में करीब 0.5 फीसदी की बढ़ोतरी होगी। खबर के मुताबिक, केन्द्र सरकार जीएसटी बिल को 29 से 30 मार्च तक संसद में निचले सदन में इसे पास करने की योजना बना रही है। जिसके बाद इस बिल को संसद के उच्च सदन राज्यसभा में पेश किया जाएगा।

क्या है जीएसटी बिल- ये केन्द्र सरकार द्वारा लागू किए जाने वाला अपत्यक्ष कर हैं जिसमें व्यक्ति को किसी भी चीज की खरीदारी के लिए सिर्फ एक ही तरह का टैक्स देना होगा। इससे पहले किसी भी चीज की खरीदारी के लिए व्यक्ति को कई तरह टैक्स का भुगतान करना पड़ता है। वहीं, जीएसटी लागू होने के बाद देशभर में हर चीज का मूल्य एक ही होगा। और उपभोगता को सिर्फ एक ही तरह का टैक्स देना होगा।

जीएसटी के फायदे-जीएस लागू होने के बाद आम आदमी को हर चीज एक ही कीमत पर मिलेंगी। चाहे आप मोटर बाइक खरीदिए या माचिस। देशभर में ये आपको एक ही कीमत मिलेंगी। इससे पहले हर राज्य में हर चीज की कीमत अलग-अलग होती है। जीएसटी लागू होने के बाद एक्सरसाइज ड्यूटी और सर्विट टैक्स पूरी तरह से खत्म हो जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App