ताज़ा खबर
 

किसी भी निजी अस्पताल में इलाज करा सकेंगे ESIC लाभार्थी, अब इमरजेंसी में रेफर की जरूरत नहीं

ESIC ने लाभार्थियों को आपात स्थिति में समीप के किसी भी निजी अस्पताल में स्वास्थ्य सेवाएं लेने की अनुमति दे दी है।

ESIC के लाभार्थियों के लिए अच्छी खबर

कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ESIC) ने लाभार्थियों को आपात स्थिति में समीप के किसी भी निजी अस्पताल में स्वास्थ्य सेवाएं लेने की अनुमति दे दी है। मौजूदा व्यवस्था के तहत बीमित शख्स और लाभार्थी (पारिवार के सदस्य) को पैनल में शामिल या उससे बाहर के अस्पतालों में इलाज के लिए पहले ESIC चिकित्सालय या अस्पताल में जाना होता है। वहां से फिर से उन्हें ‘रेफर’ किया जाता है।

कहने का मतलब ये है कि अब अगर इमरजेंसी जैसी स्थिति है तो आप अपने नजदीकी निजी अस्पताल में भी जा सकते हैं। ईएसआईसी की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक दिल का दौरा पड़ने जैसे आपात चिकित्सा मामलों में यह निर्णय किया गया है। दिल का दौरा पड़ने पर तत्काल इलाज की जरूरत पड़ती है। ये इलाज ESIC बीमा के दायरे में आएगा।

हालांकि, ESIC अंशधारक को निजी अस्पतालों में इलाज के खर्च का तत्काल भुगतान करना होगा लेकिन बाद में क्लेम कर प्राप्त किया जा सकता है। इसकी इलाज की दरें केंद्र सरकार स्वास्थ्य सेवा (सीजीएचएस) दरों के अनुरूप होंगी। वहीं, ESIC के पैनल में शामिल अस्पतालों में इलाज ‘कैशलेस’ होगा।

बहरहाल, सरकार के इस फैसले से 3 करोड़ से ज्यादा लोगों को फायदा मिलने की उम्मीद है। आपको बता दें कि देश में करीब 3.5 करोड़ से ज्यादा लोग ESIC से जुड़े हैं। देश की अधिकतर कंपनियों या संस्थाओं में कर्मचारियों को निर्धारित वेतन के आधार पर ESIC की सुविधा दी जाती है।

कोरोना काल में भी बदला है नियम: इससे पहले कोरोना काल के शुरुआती महीनों में केंद्र सरकार ने कहा था कि ESIC योजना के सदस्य देश में कहीं भी इमरजेंसी इलाज करा सकेंगे। हालांकि, इस दौरान ESIC मेडिकल स्कीम के कार्ड या नंबर को दिखाना अनिवार्य होगा। मौजूदा व्यवस्था में सिर्फ बीमित कर्मचारी के मूल राज्य तक ही ये सुविधाएं थीं लेकिन ये नया फैसला कोरोना को देखते हुए लिया गया है। (इनुपट भाषा से )

Next Stories
1 बिकने को तैयार अनिल अंबानी की 4 ​कंपनियां, खरीदारों को मिला 17 दिसंबर तक का मौका
2 मुकेश अंबानी के दोनों समधी में कौन है ज्यादा दौलतमंद? जानिए कहां तक फैला है कारोबार
3 बाइक पर बैठने का क्या है सही तरीका? जान लीजिए मोदी सरकार के नियम
आज का राशिफल
X