ताज़ा खबर
 

आपके PF अकाउंट में सरकार डाल रही है पैसे, बैलेंस चेक करने का ये है तरीका

EPFO starts crediting interest rate: आप SMS के जरिये भी PF बैलेंस चेक कर सकते हैं। इसके लिए भी रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से 7738299899 पर SMS भेजना होगा।

epfo, pf account, pf balancePF खाताधारकों को बैलेंस चेक करने की सर्विस निशुल्क है। (photo-indian express )

कोरोना काल के दौर में कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने अपने अंशधारकों को वित्त वर्ष 2019-20 के लिए कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) पर मिलने वाले ब्याज का भुगतान शुरू कर दिया है। ब्याज की ये रकम 6 करोड़ से ज्यादा पीएफ खाताधारकों को मिलेगी। आज हम आपको बताएंगे कि ईपीएफ अकाउंट के बैलेंस को कैसे चेक करें।

सरकार की तरफ से PF खाताधारकों को बैलेंस चेक करने की सर्विस बिल्कुल निशुल्क है। इसके लिए स्मार्टफोन की भी जरूरत नहीं है, केवल पीएफ खाते में दर्ज रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर होना चाहिए। आप सिर्फ मिस्ड कॉल देकर अपने पीएफ अकाउंट की सारी डिटेल मोबाइल पर जान सकते हैं। इसके लिए 011-22901406 नंबर पर डायल करना होगा। जैसे ही आप इस नंबर पर मिस्ड कॉल करेंगे, खाते की पूरी जानकारी मैसेज के जरिये पहुंच जाएगी।

आप SMS के जरिये भी PF बैलेंस चेक कर सकते हैं। इसके लिए भी रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से 7738299899 पर SMS भेजना होगा। इसके लिए आपको ‘EPFOHO UAN’ लिखकर 7738299899 पर भेजना होगा। जैसे ही आप SMS करेंगे, वैसे ही ईपीएफओ आपको आपके पीएफ योगदान और बैलेंस की जानकारी भेज देगा। यह सुविधा 10 भाषाओं अंग्रेजी, हिन्दी, तमिल, मलयालम, पंजाबी, गुजराती, मराठी, कन्नड़, तेलुगु और बांग्ला में उपलब्ध है।

आपको बता दें कि मार्च 2020 में ईपीएफओ के निर्णय लेने वाले सर्वोच्च निकाय सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज ने गंगवार की अध्यक्षता में 2019-20 के लिए ईपीएफ पर 8.5 प्रतिशत ब्याज दर को मंजूरी दी थी।

सितंबर में ईपीएफओ ने गंगवार की अध्यक्षता में अपने ट्रस्टियों की बैठक में 8.5 प्रतिशत ब्याज को 8.15 प्रतिशत और 0.35 प्रतिशत की दो किस्तों में विभाजित करने का फैसला किया था। हालांकि, बाद में मंत्रालय ने एक बार में ही पूरे 8.5 प्रतिशत अंशदान को खाताधारकों के खातों में डालने का फैसला किया।

Next Stories
1 Mahindra को नए साल में बड़ा झटका, कोरोना के चक्कर में Ford से टूटा रिश्ता
2 कोरोना संकट के बीच बढ़ता जा रहा सरकार का कर्ज, जानिए सितंबर तक कितना बढ़ा बोझ
3 LIC के कंट्रोल में है ये बैंक, बेल्जियम की कंपनी को बेची हिस्सेदारी, 507 करोड़ रुपये में हुई डील
ये पढ़ा क्या?
X