EPFO Remain PF Interest rate 8.8% - Jansatta
ताज़ा खबर
 

वित्त वर्ष 2016-17 के लिए 8.8% ब्याज दर को कायम रखेगा EPFO

वित्त मंत्रालय ने इसी साल 2015-16 के लिए ईपीएफ पर ब्याज दर को घटाकर 8.7 प्रतिशत कर दिया था।

Author नई दिल्ली | December 18, 2016 6:12 PM
कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ)

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) वित्त वर्ष 2016-17 के लिए भविष्य निधि जमा पर संभवत: 8.8 प्रतिशत ब्याज दर को कायम रखेगा। पिछले वित्त वर्ष 2015-16 में भी भविष्य निधि पर ईपीएफओ ने यही ब्याज दिया था। ईपीएफओ के अंशधारकों की संख्या चार करोड़ से अधिक है। ईपीएफओ के निर्णय लेने वाले शीर्ष निकाय केंद्रीय न्यासी बोर्ड (सीबीटी) की सोमवार (19 दिसंबर) को बैठक हो रही है जिसमें चालू वित्त वर्ष के लिए ब्याज दरों पर फैसला किया जाएगा। एक सूत्र ने कहा कि सीबीटी की कल बेंगलुरु में होने वाली बैठक में ब्याज दरों पर फैसला हो सकता है।

सूत्र ने कहा कि 8.8 प्रतिशत की ब्याज दर पर करीब 383 करोड़ रुपए का नुकसान होगा। लेकिन ईपीएफओ 2015-16 के दौरान 8.8 प्रतिशत ब्याज दर की वजह से सृजित 409 करोड़ रुपए के अधिशेष का इस्तेमाल करना चाहता है। सूत्र ने कहा कि श्रम मंत्रालय के शीर्ष अधिकारी वित्त मंत्रालय को 8.8 प्रतिशत ब्याज दर को कायम रखने के बारे में विश्वास दिलाने का प्रयास कर रहे हैं। इससे पहले वित्त मंत्रालय ने इसी साल 2015-16 के लिए ईपीएफ पर ब्याज दर को घटाकर 8.7 प्रतिशत कर दिया था, जबकि श्रम मंत्री की अगुवाई वाली सीबीटी ने 8.8 प्रतिशत ब्याज की मंजूरी दी थी। ट्रेड यूनियनों के विरोध के बाद सरकार ने अपना फैसला वापस ले लिया था और अंशधारकों को 8.8 प्रतिशत ब्याज देने को सहमति दे दी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App