ताज़ा खबर
 

नौकरी करने वालों को झटका दे सकती है मोदी सरकार, EPFO कर रही ब्याज दर घटाने की तैयारी

पिछले साल दिसंबर में ईपीएफ की ब्याज दर को साल 2016-17 के लिए 8.65 फीसदी कर दिया था, यह साल 2015-16 में 8.8 फीसदी थी।

Author Updated: November 26, 2017 8:01 PM
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

रिटायरमेंट फंड बॉडी ईपीएफओ पीएफ पर मिलने वाली ब्याज दरों में कमी कर सकती है। लेबर मिनिस्ट्री के अधिकारी ने कहा है कि पीएफ पर 8.56 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है। साल 2016-17 में इसके 4.5 करोड़ मेंबर हैं। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) की इस आधार पर ब्याज दर में कटौती करने की संभावना है कि वह सीधे विनिमय व्यापार निधि (ईटीएफ) यूनिट्स को भविष्य निधि खातों में जमा कर रही है। सीनियर अधिकारी ने कहा कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन 2017-18 के लिए भविष्य निधि जमा राशियों पर ब्याज दर में कटौती कर सकता है, क्योंकि ईटीएफ निवेश को सीधे ग्राहकों के खाते में जमा करने की योजना है। हालांकि, अधिकारी ने कहा कि ईपीएफओ अभी भी चालू वित्त वर्ष के लिए इनकम प्रॉजेक्शन का काम कर रहा है, जो कि इस वित्त वर्ष के लिए उपभोक्ता खातों में ब्याज दर को जमा करने का आधार बन जाएगा।

इससे पहले गुरुवार को ईपीएफओ ने मूल्यांकन और इक्विटी निवेश के लेखांकन के लिए पॉलिसी को मंजूरी दी थी। इसे आईआईएम बेंगलुरु की सलाह के बाद तैयार किया गया था। पॉलिसी इस वित्तीय वर्ष के अंत तक ग्राहकों के भविष्य निधि खाते में ईटीएफ इकाइयों को क्रेडिट करने में सक्षम हो जाएगी। इस प्रकार हर खाता धारक अपना पीएफ बैलेंस को कैश बैलेंस और ईटीएफ यूनिट्स की तरह देख पाएगा।

ईटीएफ पर मिलने वाले फायदे को सब्सक्राइबर खाते में जमा किया जाएगा लेकिन सदस्यों को निकासी के समय इन इक्विटी लिंक्ड इनवेस्टमेंट पर पूरी रकम का एहसास हो पाएगा। ग्राहकों के पास अपने खातों से एडवांस लेते समय ईटीएफ यूनिटों को खत्म करने या कैश निकालने का विकल्प होगा। वित्त मंत्रालय, श्रम मंत्रालय पर दवाब बना रहा है कि वह अपने ईपीएफ की दर को अपनी छोटी सेविंग स्कीम जैसे पीपीएफ की तरह करे। पिछले साल दिसंबर में ईपीएफ की ब्याज दर को साल 2016-17 के लिए 8.65 फीसदी कर दिया था, यह साल 2015-16 में 8.8 फीसदी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 स्टैंडर्ड एंड पुअर्स ने भारत की रेटिंग में नहीं किया कोई बदलाव, दिया BBB ग्रेड
2 शेयर बाजार अपडेट, 24 नवंबर 2017: सेंसेक्स 91 प्वाइंट्स चढ़कर 33679 पर पहुंचा, निफ्टी में भी उछाल
3 गोल्ड और चांदी रेट, 24 नवंबर 2017: सोना 65 रुपए प्रति दस ग्राम हुआ मंहगा, चांदी के दाम भी बढ़े