ताज़ा खबर
 

ईडी के निशाने पर TMC सांसद, सरकारी घर से जब्त किये 32 लाख रुपये कैश और 10 हजार अमेरिकी डॉलर

ईडी ने एक बयान में कहा, ‘‘इन छापेमारी में के.डी. सिंह के दिल्ली स्थित आवास से घुमा-फिरा कर किये लेनेदेन से संबंधित कई दस्तावेज, डिजिटल सबूत तथा संपत्तियों के दस्तावेज जब्त किये गये।

Author नई दिल्ली | Updated: September 20, 2019 6:55 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने तृणमूल कांग्रेस के राज्यसभा सांसद के.डी. सिंह के यहां स्थित आवास तथा कुछ अन्य स्थानों पर छापेमारी कर 32 लाख रुपये नकद तथा 10 हजार अमेरिकी डॉलर जब्त किये। ईडी ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी। ईडी ने कहा कि सांसद तथा कुछ अन्य लोगों के खिलाफ मनी लौंड्रिंग मामले की जांच के सिलसिले में यह कार्रवाई की गयी। ईडी ने कहा कि अलकेमिस्ट समूह की 14 कंपनियों के पंजीकृत कार्यालयों समेत दिल्ली और चंडीगढ़ में सात स्थानों पर बृहस्पतिवार को छापेमारी की गयी। अलकेमिस्ट समूह सांसद सिंह द्वारा नियंत्रित कंपनी है।

ईडी ने एक बयान में कहा, ‘‘इन छापेमारी में के.डी. सिंह के दिल्ली स्थित आवास से घुमा-फिरा कर किये लेनेदेन से संबंधित कई दस्तावेज, डिजिटल सबूत तथा संपत्तियों के दस्तावेज जब्त किये गये। इनके साथ ही 32 लाख रुपये नकद तथा 10 हजार अमेरिकी डॉलर भी जब्त किये गये।’’ बयान में कहा गया कि सांसद सिंह का आधिकारिक आवास यहां लुटियंस क्षेत्र में तुगलक लेन में स्थित है।

ईडी ने जांच के सिलसिले में सांसद को पिछले साल समन जारी किया था। ईडी ने यह कार्रवाई ऐसे समय की है जब तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी दिल्ली में ही हैं। वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात भी कर चुकी हैं। ईडी ने कहा कि उसने सांसद के चंडीगढ़ स्थित आवास तथा उनकी कंपनियों से जुड़े दो निदेशकों के घर की भी तलाशी ली। ईडी मनी लौंड्रिंग के दो मामलों में सिंह, उनसे जुड़ी कंपनियों तथा उनके सहयोगियों के खिलाफ जांच कर रही है। पहला मामला कोलकाता पुलिस की प्राथमिकी पर तथा दूसरा मामला बाजार नियामक सेबी के आरोपपत्र पर आधारित है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 7th Pay Commission: कंपनियों को मिली टैक्स राहत, अब कर्मचारियों की सैलरी बढ़ा सकती है केंद्र सरकार, दे सकती है दशहरा गिफ्ट
2 सरकार ने कॉरपोरेट जगत को दी तोहफों की सौगात, 10 प्रतिशत तक कम हुए कंपनी कर
3 घरेलू कंपनियों को सीतारमण ने दी राहत, 25.17% से 22 प्रतिशत की कॉरपोरेट दरें