Daimler: ऑटोमोबाइल कंपनियां अभी भी मंदी की चपेट में! अब इस कंपनी ने किया No Production Day का ऐलान

वाहनों की बिक्री में कमी का कारण डेमलर इंडिया ने अक्टूबर में 3 दिन के लिए 'नो प्रोडक्शन डे' का फैसला लिया है। डेमलर इंडिया जर्मनी की कमर्शियल वाहन निर्माता कंपनी जर्मन डेमलर एजी की सहायक कंपनी है।

Economic slowdon, auto sector, commercial vehicle, Daimler India, no production day, Ashok Leyland, TVS, German Daimler AG, heavy-duty truck, business news, business news in hindi, india news, Hindi news, news in Hindi, latest news, today news in Hindiडेमलर इंडिया ने साल 2012 से भारत में वाहनों का निर्माण शुरू किया था। (फाइल फोटो)

ऑटो सेक्टर में मंदी का असर से कमर्शियल वाहन निर्माता कंपनी डेमलर इंडिया भी अछूती नहीं है। वाहनों की बिक्री में कमी का कारण डेमलर इंडिया ने सितंबर और अक्टूबर में 6 दिन के लिए ‘नो प्रोडक्शन डे’ यानी उत्पादन को पूरी तरह से बंद करने का फैसला लिया है।

इससे पहले भारी वाहन निर्माता कंपनी अशोक लेलैंड ने भी कमर्शियल वाहन बाजार में सुस्ती को देखते हुए वाहनों का उत्पादन रोकने की घोषणा की थी। अशोक लेलैंड ने भी नो प्रोडक्शन डे को बढ़ाने का फैसला किया था। दूसरी तरफ सरकार की तरफ से आर्थिक सुस्ती को दूर करने के लिए कॉर्पोरेट टैक्स में कटौती समेत अनेक उपाय किए जा रहे हैं। हालांकि, सरकार की तरफ से ऑटो सेक्टर की लंबे समय से जीएसटी की कटौती की मांग को लेकर अभी तक कोई फैसला नहीं लिया गया है।

इससे पहले डेमलर इंडिया कमर्शियल व्हीकल ने एक बयान में कहा, ‘हम इस बात की पुष्टि करते हैं कि डीआईसीवी सितंबर में 3 दिन के बाद अक्तूबर में तीन दिन नो प्रोडक्शन डे रखेगी। चेन्नई प्लांट में काम करने वाले स्थायी कर्मचारियों को इस मुआवजे के मदद रूप में अतिरिक्त अवकाश को मंजूरी दी गई है।’ हालांकि, कंपनी के प्रवक्ता की तरफ से प्रोडक्शन बंद रखने से जुड़ी तारीखों की डिटेल देने से मना कर दिया।

प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी बाजार की जरूरतों के अनुरूप अपने प्रोडक्शन में सामंजस्य बिठाएगी। इसके साथ ही बाजार की स्थिति पर कंपनी की तरफ से करीब से नजर रखी जा रही है। मालूम हो कि डेमलर इंडिया जर्मनी की कमर्शियल वाहन निर्माता कंपनी जर्मन डेमलर एजी की सहायक कंपनी है। यह भारत में लोगों की जरूरत के हिसाब से वाहनों का उत्पादन करती है।

अशोक लेलैंड और टीवीएस की तरफ से अपने संयंत्रों में वाहनों के उत्पादन रोकने के बाद डेमलर तीसरी सबसे बड़ी कंपनी है जिसने ऑटो सेक्टर में मंदी के कारण वाहनों का उत्पादन बंद करने का फैसला लिया है। डेमलर इंडिया की तरफ से जून 2012 में प्रोडक्शन की शुरुआत की गई थी। कंपनी ने प्रोडक्शन शुरू होने के दो महीने के बाद ही अपना ट्रक भारतीय बाजार में पेश किया था।

Next Stories
1 RBI ने पिछले साल की थी PMC चेयरमैन को बर्खास्त करने की सिफारिश, पर नहीं हुआ एक्शन
2 ब्रिटेन में शाहरुख-सलमान के परिवार के सदस्यों के नाम से खोली गई कंपनी, ‘कुछ-कुछ होता’ है की ‘अंजलि’ भी डायरेक्टर
3 निर्माणाधीन परियोजनाओं को राहत नहीं
यह पढ़ा क्या?
X