ताज़ा खबर
 

ईज ऑफ डूइंग बिजनेस: नरेंद्र मोदी राज में 23 पायदान का सुधार, 100वें से 77वें स्‍थान पर पहुंचा भारत

नई दिल्ली में डिपार्टमेंट ऑफ पॉलिसी एंड प्रमोशन (डीआईपीपी) के सचिव ने पत्रकारों को बताया, "भारत लगातार दूसरे साल शीर्ष 10 सुधार करने वाले देशों में शामिल हुआ है। दक्षिण एशियाई देशों में अपना देश पहले पायदान पर पहुंच गया है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फोटोः पीटीआई)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में भारत में कारोबार करना पहले से आसान हुआ है। यह बात बुधवार (31 अक्टूबर) को वर्ल्ड बैंक की ‘ईज ऑफ डूइंग बिजनेस’ इंडेक्स में सामने आई। देश की ताजा रैंकिंग (2018) में 23 पायदान का उछाल आया है। भारत की रैंक बढ़कर अब 77 हो गई है, जो कि साल 2017 में 100 थी। ऐसे में माना जा रहा है कि देश को इससे अधिक विदेशी निवेश आर्किषत करने में मदद मिलेगी। रैंकिंग में सुधार के साथ मोदी सरकार को थोड़ी राहत मिली है, क्योंकि इस साल के अंत में पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हैं, जबकि अगले साल लोकसभा चुनाव होने हैं।

नई दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा, “हम जब सत्ता में आए थे, तब पीएम ने कहा था कि हमें शीर्ष 50 (रैंकिंग में) में आना है। आज हमारी रैंक 77 है। डीआईपीपी ने इस पर काम किया कि कैसे रैंकिंग को और कैसे उठाया जाए। आपको कोड क्रैक करना होगा और जहां पर कमी है, वहां सुधार करना होगा।” वहीं, रैंकिंग में सुधार पर केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु बोले, “यह केंद्र, राज्य और स्थानीय सरकारों के मिले-जुले काम का परिणाम है। सबके प्रयास इसमें शामिल हैं, जिसके कारण ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में भारत की रैंक में उछाल आया।”

सुनिए, प्रेस कॉन्फ्रेंस में वित्त मंत्री ने क्या कहा-

जेटली से पहले डिपार्टमेंट ऑफ पॉलिसी एंड प्रमोशन (डीआईपीपी) के सचिव ने पत्रकारों को बताया, “भारत लगातार दूसरे साल शीर्ष 10 सुधार करने वाले देशों में शामिल हुआ है। दक्षिण एशियाई देशों में अपना देश पहले पायदान पर पहुंच गया है, जबकि साल 2014 में देश छठे स्थान पर था।”

कारोबार करने के दौरान कंस्ट्रक्शन परमिट्स (किसी कारोबार या स्टार्ट-अप के लिए) के मसले पर उन्होंने आगे कहा, “दिल्ली और मुंबई में ऑनलाइन सिंगल विंडो ने इस प्रक्रिया को सुगठित किया है। मुंबई में इन प्रक्रियाओं में पहले 37 दिन लगते थे, जबकि अब यह काम 20 दिन में हो जाता है। वहीं, दिल्ली में 24 दिन से अब ये काम 16 दिनों में होने लगा है।”

ईज ऑफ डूइंग बिजनेस इंडेक्स में न्यूजीलैंड शीर्ष पर है। फिर क्रमश: सिंगापुर, डेनमार्क और हांगकांग का नंबर आता है। सूची में अमेरिका आठवें, चीन 46वें और पाकिस्तान 136वें स्थान पर है। विश्व बैंक ने इस मामले में सबसे अधिक सुधार करने वाली अर्थव्यवस्थाओं में भारत को 10वें पायदान पर रखा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App