ताज़ा खबर
 

Donald Trump’s India visit: राष्ट्रपति बनने से पहले भी भारत आए हैं डोनाल्ड ट्रंप, मुंबई से गुड़गांव तक ट्रंप टावर बना किया है निवेश

Donald Trump's India visit: अमेरिका के बाहर भारत ही वह देश है, जहां ट्रंप की कंपनियों ने रियल एस्टेट प्रोजेक्ट्स में सबसे ज्यादा निवेश किए हैं। राष्ट्रपति ट्रंप के बेटे डोनाल्ड ट्रंप जूनियर के हवाले से वॉशिंगटन पोस्ट ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि उनकी कंपनियों के भारत में 4 लग्जरी रेजिडेंशियल प्रोजेक्ट्स चल रहे हैं।

trump towerमुंबई में निर्माणाधीन ट्रंप टावर की तस्वीर। अब काम पूरा हो चुका है।

Donald Trump’s India visit: अमेरिका के राष्ट्रपति के तौर पर डोनाल्ड ट्रंप अपने पहले भारत दौरे पर पहुंचे हैं। राष्ट्राध्यक्ष के तौर पर भले ही ट्रंप का यह पहला दौरा है, लेकिन भारत से उनका पुराना नाता रहा है। पहले भी कई बार बिजनेस एग्जीक्युटिव के तौर पर वह भारत आते रहे हैं। इसकी वजह उनका भारत से पुराना कारोबारी नाता है। अमेरिका के बाहर भारत ही वह देश है, जहां ट्रंप की कंपनियों ने रियल एस्टेट प्रोजेक्ट्स में सबसे ज्यादा  निवेश किए हैं।

राष्ट्रपति ट्रंप के बेटे डोनाल्ड ट्रंप जूनियर के हवाले से वॉशिंगटन पोस्ट ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि उनकी कंपनियों के भारत में 4 लग्जरी रेजिडेंशियल प्रोजेक्ट्स चल रहे हैं। इसके अलावा एक ऑफिस टावर भी चल रहा है। यह सभी प्रोजेक्ट्स ट्रंप के नाम पर ही चल रहे हैं। खुद डोनाल्ड ट्रंप भी कारोबार के सिलसिले में 2014 में भारत आए थे। उस दौरान बॉलीवुड स्टार्स के साथ एक पार्टी में उन्होंने भारत को लेकर कहा था, ‘यह इमर्जिंग मार्केट नहीं है बल्कि अमेजिंग मार्केट है।’

ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद से उनका कारोबारी साम्राज्य बेटे डोनाल्ड ट्रंप जूनियर संभा रहे हैं। बीते कई सालों में वह लगातार भारत आते रहे हैं। आइए जानते हैं, भारत में कहां-कहां है ट्रंप का निवेश…

मुंबई का 75 मंजिला ट्रंप टावर: देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में 75 मंजिल के इस टावर का काम पूरा हो चुका है और खरीददारों को पजेशन दी जा रही है। इस प्रोजेक्ट में ट्रंप के साथ मंगल प्रभात लोढ़ा की कंपनी मैक्रोटेक डिवेलपर्स की हिस्सेदारी है। मंगल प्रभात मुंबई बीजेपी के अध्यक्ष हैं और मालाबार हिल्स सीट से विधायक भी हैं।

पुणे में 23 मंजिला दो ट्रंप टावर: महाराष्ट्र के पुणे शहर में ट्रंप टावर के नाम से दो 23 मंजिला इमारते हैं। इन्हें ट्रंप की कंपनी ने भारत की पंचशील रियलटी नाम की कंपनी के साथ मिलकर बनाया है। इस कंपनी के संचालक अतुल और सागर चोरदिया हैं। दोनों ही भाई हैं। इन दोनों ही भाइयों से राष्ट्रपति बनने के बाद भी न्यूयॉर्क में मुलाकात को लेकर ट्रंप घिरे थे और उन पर राष्ट्राध्यक्ष चुने जाने के बाद भी कारोबार में शामिल रहने का आरोप लगा था। इनमें से एक टावर का ट्रंप के बेटे ने 2018 में उद्घाटन किया था।

गुड़गांव में ट्रंप की कंपनी का ऑफिस टावर: दिल्ली से सटे गुड़गांव में भी ट्रंप की कंपनी एक भारतीय फर्म के साथ मिलकर ऑफिस टावर तैयार कर रही है। इस प्रोजेक्ट में ट्रंप की कंपनी के साथ IREO की हिस्सेदारी है।

कोलकाता में भी चल रहा है काम: पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में ट्रंप की कंपनी एक आवासीय परिसर का निर्माण कर रही है। इस प्रोजेक्ट पर अभी काम चल ही रहा है और इसमें यूनिमार्क और ट्रिबेका डिवेलपर कंपनी ट्रंप की फर्म के साथ साझीदार हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 PM Vaya Vandana Yojana benefits: बंद होने वाली है पीएम वय वंदना योजना, जानें, हर महीने पेंशन वाली इस स्कीम में कैसे कर सकते हैं निवेश
2 Provident Fund balance withdrawal: जल्द UAN से लिंक कराएं Aadhar Card, रिटायरमेंट के दिन ही मिलेगा पूरा PF, पेंशन भी हो जाएगी तुरंत चालू
3 PM Kisan Samman Nidhi Yojna: आर्थिक ग्रोथ में सुस्ती के चलते गरीबों की योजनाओं में कम हो रहा सरकारी खर्च, पीएम किसान सम्मान निधि फिलहाल सबसे बड़ी स्कीम
यह पढ़ा क्या?
X