ताज़ा खबर
 

Diwali Muhurat Trading Timing 2018: निवेशकों ने 5 मिनट में कमाए 1 लाख करोड़ रुपए, 250 अंक चढ़ा बाजार

Diwali Muhurat Trading Timing 2018: दिवाली पर मुहूर्त ट्रेडिंग की परंपरा काफी लंबे समय से चली आ रही है। और इसे लगातार साल-दर-साल निभाया जा रहा है।

Author नई दिल्ली | November 7, 2018 6:39 PM
Diwali Muhurat Trading Timing: दिवाली पर मुहूर्त ट्रेडिंग की परंपरा काफी लंबे समय से चली आ रही है।

Diwali Muhurat Trading Timing 2018: शेयर बाजार में दिवाली के मौके पर शाम को मुहूर्त ट्रेडिंग में निवेशकों ने हिस्सा लिया। यह 7 नवंबर को शाम 5.30 बजे से 6.30 बजे तक चला। इस दौरान निवेशकों ने महज पांच मिनट में एक लाख करोड़ रुपए अर्जित किए। वहीं शेयर बाजार तमाम आशंकाओं को धता बताते हुए 250 अंकों तक चढ़ गया। निफ्टी भी 10,600 के आंकड़े को पार कर गया। बता दें कि अभिनेत्री नीतू चंद्रा ने बेल बजाकर मुहूर्त ट्रेडिंग की शुरुआत की। मालूम हो कि दिवाली पर मुहूर्त ट्रेडिंग की परंपरा काफी लंबे समय से चली आ रही है। और इसे लगातार साल-दर-साल निभाया जा रहा है। इसमें दिवाली पर शेयर बाजार के कारोबारी एक खास वक्त पर बाजार में पैसा लगाते हैं। दिलचस्प है कि इसमें मुनाफे और रकम निकालने की चिंता नहीं की जाती। बल्कि इसे पंरपरा के तौर पर बड़ी ही खुशी-खुशी निभाया जाता है।

दिवाली के दिन शेयर बाजार बंद रहता है। हालांकि मुहूर्त ट्रेडिंग के लिए एक घंटे के लिए इसे खोला जाता है। इस दौरान निवेशक बाजार में निवेश करते हैं। वित्तीय नजरिए से दिवाली से ही नए साल की शुरुआत होती है। इस बार दिवाली के साथ संवत् 2075 शुरू हो रहा है। ऐसे में वर्ष के पहले दिन शुभ मुहूर्त में निवेश करना अच्छा माना जाता है। मुहूर्त ट्रेडिंग के जरिए निवेशक नए फाइनेंशियल ईयर के अच्छा रहने की कामना व्यक्त करते हैं। ज्यादातर लोग मुहूर्त ट्रेडिंग में प्रतीकात्मक निवेश के तौर पर पहला ऑर्डर खरीद का लगाते हैं। इससे बाजार में बढ़त देखने को मिलती है।

जियोजित फाइनेंशियल सर्विस ने दिवाली मुहूर्त ट्रेडिंग में खरीद के लिए 14 शेयरों की लिस्ट जारी की थी। जियोजित के मुताबिक ये शेयर लंबे समय में निवेशकों को अच्छा मुनाफा देने वाले हैं। आप यह लिस्ट यहां पर देख सकते हैं।

इसके अलावा रेलीगेयर ब्रोकरेज ने भी लिस्ट जारी की थी। देखिए-

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App