ताज़ा खबर
 

1 लाख 70 हजार करोड़ रुपये के पैकेज से कोरोना के संकट से निपटेगी मोदी सरकार, गरीबों को मुफ्त राशन, पेंशन, उज्ज्वला योजना समेत 8 सौगातें

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए 1 लाख 70 हजार करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि सरकार पीएम गरीब कल्याण योजना के तहत लॉकडाउन से प्रभावित गरीब तबके के लोगों की मदद करेगी।

कोरोना संकट से निपटने के लिए 1 लाख 70 हजार करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान

कोरोना वायरस के संकट से निपटने के लिए मोदी सरकार ने 1 लाख 70 हजार करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान किया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार पीएम गरीब कल्याण योजना के तहत लॉकडाउन से प्रभावित गरीब तबके के लोगों की मदद करेगी। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने देश के 80 करोड़ गरीबों को प्रति माह 6 किलोग्राम अतिरिक्त राशन मुफ्त में भी देने का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि अब तक 5 किलो गेहूं या चावल प्रति गरीब व्यक्ति को सब्सिडी पर मुहैया कराया जाता था, अब 5 किलो राशन अतिरिक्त मिलेगा यानी देश के 80 करोड़ गरीबों को जून के महीने तक 10 किलो सरकारी राशन मिलेगा।

80 करोड़ गरीबों को एक किलो दाल भी मिलेगी: इसके अलावा एक किलो दाल भी गरीब तबके के लोगों को दी जाएगी। हर क्षेत्र के हिसाब से लोगों की पसंद के मुताबिक प्रति माह एक किलो दाल प्रति व्यक्ति के हिसाब से दी जाएगी। उन्होंने कहा कि सरकार लॉकडाउन के बाद से लगातार लोगों की मुश्किलों को कम करने के काम में लगी हुई है।

किसानों को मिलेगी 2,000 रुपये की किस्त: पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत 8 करोड़ 70 लाख किसानों को 2,000 रुपये की किस्त अप्रैल के पहले सप्ताह में ही उनके खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी।

मनरेगा मजदूरों की दिहाड़ी में हुआ इजाफा: मनरेगा में मजदूरी की दर को बढ़ाकर 202 रुपये प्रतिदिन कर दी गई है। इससे 5 करोड़ परिवारों को लाभ होगा। अब तक मनरेगा के तहत मजदूरों की दैनिक दिहाड़ी 182 रुपये ही थी।

बुजुर्गों, दिव्यांगों की पेंशन में 1,000 रुपये बढ़े: 3 करोड़ बुजुर्गों, दिव्यांगों और विधवाओं की पेंशन में 1,000 रुपये का इजाफा किया गया है। वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि यह राशि सीधे लाभार्थियों के बैंक खाते में ट्रांसफर होगा।

20 करोड़ महिला खाताधारकों को हर महीने 500 रुपये: प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत 20.5 करोड़ महिला खाताधारकों के खाते में प्रति माह 500 रुपये अगले तीन महीने तक ट्रांसफर किए जाएंगे। कोरोना वायरस के चलते आए संकट से निपटने के लिए यह राशि दी जाएगी।

उज्ज्वला स्कीम के तहत जून तक मुफ्त सिलेंडर: अगले तीन महीने तक उज्ज्वला स्कीम के तहत 8 करोड़ से ज्यादा लाभार्थियों को मुफ्त में एलपीजी सिलेंडर मुहैया कराए जाएंगे।

आजीविका मिशन के तहत 20 लाख का लोन: स्वयं सहायता समूहों से जुड़े देश के 7 करोड़ परिवारों के लिए ऐलान करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि उन्हें स्वरोजगार के लिए 20 लाख रुपये तक का लोन मिल सकेगा। अब तक दीनदयाल उपाध्यायन आजीविका मिशन के तहत 10 लाख रुपये लोन ही मिलता था।

जून महीने तक सरकार जमा करेगी रकम: संगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिए बड़ा ऐलान करते हुए फाइनेंस मिनिस्टर ने कहा कि ऐसे संस्थानों में जहां 90 फीसदी कर्मचारी 15000 रुपये से कम की सैलरी पाते हैं या फिर 100 से कम कर्मचारी हैं, उन संस्थानों के पीएफ खाते में सरकार पैसा डालेगी। कर्मचारी और नियोक्ता दोनों के ही 12 फीसदी हिस्से को सरकार अदा करेगी। अगले तीन महीने तक सरकार यह राशि जमा करेगी।

निकाल सकेंगे PF की 75 पर्सेंट राशि: पीएफ में जमा राशि के 75 हिस्से के बराबर या फिर तीन महीने की सैलरी के बराबर की राशि निकाली जा सकेगी। यह राशि नॉन रिफंडेबल होगी। इससे करीब 4 करोड़ कर्मचारियों को सीधे तौर पर लाभ मिलेगा।

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा | जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं | क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

Next Stories
1 बैंकों के कर्मचारी भी कर सकेंगे घर से काम? इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट्स को लेकर नए सुरक्षा मानकों पर विचार
2 सामने आई बेसिक इनकम स्कीम की जरूरत, लॉकडाउन में गरीबों का एक दिन कटना मुश्किल, पैदल ही गांवों की ओर निकले लोग
3 10 करोड़ गरीब परिवारों को 6,000 रुपये देगी मोदी सरकार? कांग्रेस ने की ‘न्याय’ योजना लागू करने की मांग
ये पढ़ा क्या?
X