ताज़ा खबर
 

लॉकडाउन से बढ़ेंगी गरीबों की मुश्किलें, कोरोना वायरस से लड़ने के लिए यह पर्याप्त नहीं, आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने सरकार को दी सलाह

रघुराम राजन ने कहा कि इससे समाज के गरीब तबके के लिए मुश्किलों में इजाफा हो सकता है। बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी के ऐलान के बाद देश में 14 अप्रैल तक के लिए 21 दिनों का लॉकडाउन है।

raghuram rajanभारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन

भारत में हुए दुनिया के सबसे बड़े लॉकडाउन के जरिए कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटना मुश्किल है। इससे गरीबों की मुश्किलों में इजाफा हो जाएगा। भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने यह बात कही है। ब्लूमबर्ग को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा, ‘यह बेहद चिंताजनक बात है क्योंकि सिर्फ लॉकडाउन करने और लोगों को काम पर न जाने देने से ही इसका समाधान नहीं होगा। इसके जरिए लोगों को अलग-थलग नहीं रखा जा सकता है क्योंकि देश में स्लम भी हैं, जहां लोग एक साथ रहते हैं।’

उन्होंने कहा कि कोरोना के संक्रमण को रोकना इससे मुश्किल हो सकता है। रघुराम राजन ने कहा कि इससे समाज के गरीब तबके के लिए मुश्किलों में इजाफा हो सकता है। बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी के ऐलान के बाद देश में 14 अप्रैल तक के लिए 21 दिनों का लॉकडाउन है। इसके चलते लाखों लोगों को मौलिक जरूरतों जैसे दवाई और खाने तक के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। यही नहीं हजारों की संख्या में लोग सैकड़ों किलोमीटर दूर स्थित अपने गांवों की तरफ पैदल ही निकल पड़े।

देश के कमजोर स्वास्थ्य ढांचे का भी जिक्र करते हुए रघुराम राजन ने कहा कि फिलहाल पूरा फोकस कोरोना से निपटने के लिए स्वास्थ्य ढांचे पर निवेश बढ़ाना चाहिए।  उन्होंने कहा कि अगले तीन सप्ताह ऐसे गुजरने वाले हैं, जब गरीब तबके के तमाम लोगों पर खर्च करने के लिए पैसे नहीं होंगे। उन्हें खाने की भी किल्लत होगी। इसके अलावा इन हालातों में सार्वजनिक सेवाओं को जारी रख पाना आसान नहीं होगा।

 

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा | जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं | क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

Next Stories
1 क्रेडिट और डेबिट कार्ड से भी है कोरोना वायरस का खतरा, कहीं पेमेंट के बाद सैनिटाइज करना न भूलें
2 आईटी कंपनी कॉग्निजेंट कर्मचारियों को देगी 25 पर्सेंट ज्यादा सैलरी, कोरोना संकट में 1.3 लाख भारतीयों को मिलेगी राहत
3 क्रेडिट कार्ड के बिल भरने पर भी मिलेगी तीन महीने की छूट? जानें- आरबीआई की रियायत का क्या मतलब
ये पढ़ा क्या?
X