ताज़ा खबर
 

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच इस अरबपति की कंपनी को फायदा, मुकेश अंबानी को दी थी टक्कर

बीते कुछ दिनों से एक बार फिर कोरोना के मामले बढ़ने के बाद शेयर बाजार में सुस्ती है लेकिन इसके बावजूद सन फार्मा के शेयर ने लंबी छलांग लगाई है।

मुकेश अंबानी, दिलीप संघवी (Photo-Indian Express )

कोरोना काल में कई ऐसे अरबपति हैं जिनकी दौलत में बड़ा इजाफा हुआ है। इनमें से एक सन फार्मास्युटिकल्स इंडस्ट्रीज के फाउंडर दिलीप संघवी हैं। दवा की दुनिया के चर्चित फार्मास्युटिकल कंपनियों में शामिल सनफार्मा का मार्केट कैपिटल मजबूत हुआ है तो वहीं दिलीप संघवी की दौलत में भी बड़ी बढ़ोतरी हुई है।

शेयर बाजार में सनफार्मा: बीते कुछ दिनों से एक बार फिर कोरोना के मामले बढ़ने के बाद शेयर बाजार में सुस्ती है लेकिन इसके बावजूद सन फार्मा के शेयर ने लंबी छलांग लगाई है। फिलहाल, प्रति शेयर भाव 3.69 फीसदी की बढ़त के साथ 636.95 रुपये के स्तर है। वहीं, मार्केट कैपिटल की बात करें तो 1 लाख 53 हजार करोड़ रुपये के करीब है। आपको यहां बता दें कि सनफार्मा का शेयर भाव इसी साल के फरवरी महीने में अपने 52 हफ्ते के उच्चतम स्तर को छु लिया था। कंपनी का शेयर भाव 650 रुपये के स्तर को पार कर चुका था।

दिलीप संघवी की दौलत: हाल ही में फोर्ब्स ने भारत के सबसे अमीर लोगों की लिस्ट जारी है।टॉप-10 की सूची में सन फार्मा के दिलीप संघवी भी शामि हैं। फोर्ब्स के मुताबिक संघवी की दौलत 11 बिलियन डॉलर के स्तर पर है। आपको बता दें कि दिलीप संघवी ने साल 2015 में दौलत के मामले में मुकेश अंबानी को पीछे छोड़ दिया था।

ये वो वक्त था जब दिलीप संघवी की कंपनी सन फार्मा के शेयर भाव 1000 रुपये के स्तर को पार कर लिए थे। फिलहाल, मुकेश अंबानी की बात करें तो उनकी कुल संपत्ति 75 बिलियन डॉलर के स्तर पर है। वह भारत के सबसे दौलतमंद अरबपति हैं, जबकि दुनिया के दौलतमंद अरबपतियों में उनकी रैंकिंग 12वीं है। (ये पढ़ें—नवीन जिंदल खरीदेंगे ​अनिल अंबानी की कंपनी को!)

उधार लेकर शुरू किया कारोबार: दिलीप संघवी एक फार्मास्युटिकल डिस्ट्रीब्यूटर के बेटे हैं। उन्होंने पिता से 200 डॉलर के उधार लेकर फार्मा सेक्टर में एंट्री ली। साल 1982 में गुजरात के वापी में 10,000 रुपये लेकर दिलीप ने सन फार्मा की शुरुआत की। शुरू में कंपनी ने बहुत ज्यादा दवाइओं की वेराइटी बनाने पर ध्यान न देते हुए, अच्छी क्वालिटी की दवा पर ध्यान दिया। कंपनी का मार्केट जम गया। इसके बाद कंपनी ने ग्लोबली अपना विस्तार किया। आज अमेरिका तक में सनफार्मा का दबदबा है। (ये पढ़ें—अनिल अंबानी का कारोबार चला रहे अडानी)

Next Stories
1 रुचि सोया के लिए रामदेव ने लिया था 3200 करोड़ का लोन, अब मुनाफे में है कंपनी
2 जिस कंपनी से अनिल अंबानी ने लड़ी थी कानूनी जंग, उससे TCS ने की ये डील
3 अनिल अंबानी पर SEBI के जुर्माने का असर! रिलायंस ग्रुप के निवेशकों को हो गया बड़ा नुकसान
ये पढ़ा क्या?
X