ताज़ा खबर
 

कंपनी के नाम के साथ Oxygen देख लोगों ने लगाया दांव, हो गई बंपर कमाई

शेयर बाजार में देश की कई ऐसी लिस्टेड कंपनियां हैं जिनके नाम के साथ Oxygen भी जुड़ा हुआ है। जबकि इन कंपनियों का Oxygen से कोई वास्ता नहीं है। इन कंपनियों में प्रमुख तौर पर Bombay Oxygen Investments है।

Bombay Oxygen Investments, NBFCदेश के अलग-अलग हिस्सों से ऑक्सीजन की कमी की खबरें आ रही हैं। (Photo- Indian Express)

देश में कोरोना का विकराल रूप देखने को मिल रहा है। इस हालात में ऑक्सीजन को लेकर अफरातफरी जैसा माहौल है।

देश के अलग-अलग हिस्सों से ऑक्सीजन की कमी की खबरें आ रही हैं। इन परिस्थितियों में उन कंपनियों को फायदा हुआ है जिनके नाम में Oxygen जैसे शब्द हैं। ऑक्सीजन नाम की कंपनियों में निवेशक पैसे लगा रहे और जबरदस्त कमाई भी कर रहे थे। अहम बात ये है कि इन कंपनियों का ऑक्सीजन से कोई नाता भी नहीं है। आइए समझते हैं पूरे माजरे को..

दरअसल, शेयर बाजार में देश की कई ऐसी लिस्टेड कंपनियां हैं जिनके नाम के साथ Oxygen भी जुड़ा हुआ है। जबकि इन कंपनियों का Oxygen से कोई वास्ता नहीं है। इन कंपनियों में प्रमुख तौर पर Bombay Oxygen Investments है। शेयर बाजार के जानकारों के मुताबिक नाम में ऑक्‍सीजन लगे होने से निवेशकों को लगा कि कंपनी ऑक्‍सीजन बनाती है, जिसकी देश में भारी डिमांड है।

ऐसे में कंपनी अच्‍छा मुनाफा देगी और इस वजह से बीते दिनों कंपनी के शेयरों में लोगों ने जमकर पैसे लगाए। इसका नतीजा हुआ कि 1 महीने में ही कंपनी का शेयर 140 फीसदी से ज्यादा मजबूत हो गया।

अब हो रहा नुकसानः हालांकि, जब ये खुलासा हुआ कि इस कंपनी का ऑक्सीजन से कोई वास्ता नहीं है तो शेयर में जबरदस्त बिकवाली देखने को मिली है। शेयर का भाव करीब 1300 अंक लुढ़क कर 23,300 अंक के स्तर पर आ गया है। बता दें कि पिछले 1 महीने में शेयर में 148 फीसदी तक तेजी आई है। इस दौरान शेयर 10,249 रुपये से मजबूत होकर 25,500 रुपये तक पहुंच गया।

1 जनवरी को कंपनी के शेयर का भाव 10313 रुपये था, यह 20 अप्रैल को 25,500 रुपये पर पहुंच गया। ये कंपनी 1960 में बॉम्बे ऑक्सीजन कॉरपोरेशन लिमिटेड के रूप में बनी थी। हालांकि, साल 2018 से कंपनी ने अपना नाम बदलकर Bombay Oxygen Investments कर लिया था। (ये पढ़ें-महाराष्ट्रः ऑक्सीजन टैंकर लीक होने से बड़ा हादसा, सप्लाई रुकने से 22 मरीजों ने तोड़ा दम)

ऑक्सीजन का है संकटः बीते कुछ दिनों से कोरोना के मामले बढ़ने की वजह से ऑक्सीजन की डिमांड बढ़ गई है। डिमांड के मुताबिक सप्लाई नहीं होने की वजह से देश के अधिकतर हिस्सों में ऑक्सीजन की किल्लत है। हालांकि, केंद्र सरकार की ओर से अस्पतालों को ऑक्सीजन सप्लाई किया जा रहा है लेकिन ये डिमांड से कम है।

Next Stories
1 रतन टाटा से कोर्ट में हार चुके हैं साइरस मिस्त्री, दोनों में है ये पारिवारिक रिश्ता
2 नोटबंदी के बाद रामदेव के सहयोगी ने दिया था सरप्राइज, इस क्लब में हो गए थे शामिल
3 कर्ज का जाल लेकिन इस मामले में अब भी बड़े भाई मुकेश से आगे हैं अनिल अंबानी
यह पढ़ा क्या?
X