ताज़ा खबर
 

कोरोना का असरः गौतम अडानी हों या मुकेश अंबानी, कम हो गई इन अरबपतियों की दौलत

देश के दो बड़े अरबपति मुकेश अंबानी और गौतम अडानी की दौलत भी कम हो गई है। इसके साथ ही रैंकिंग में भी दोनों अरबपति लुढ़क गए हैं।

mukesh ambani, gautam adaniगौतम अडानी- मुकेश अंबानी (Photo-Indian Express )

कोरोना महामारी की वजह से एक बार फिर देश लॉकडाउन की ओर बढ़ रहा है। देश की राजधानी समेत अलग-अलग राज्यों में लॉकडाउन और नाइट कर्फ्य लगाए जा रहे हैं। इसका असर भारतीय शेयर बाजार पर भी देखने को मिला है।

बीते सोमवार को शेयर बाजार में बड़ी गिरावट आई तो निवेशकों के 3 लाख 50 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम डूब गए। वहीं, कोरोना के इस अटैक से देश के अरबपति भी अछुते नहीं हैं। देश के दो बड़े अरबपति मुकेश अंबानी और गौतम अडानी की दौलत भी कम हो गई है। इसके साथ ही रैंकिंग में भी दोनों अरबपति लुढ़क गए हैं।

किसकी कितनी दौलतः रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी दौलत के मामले में अब लुढ़ककर 71 बिलियन डॉलर के स्तर पर आ गए हैं। मुकेश अंबानी की रैंकिंग भी अब 12 से नीचे आकर 13वीं हो गई है। चीन के झोंग शैनशैन 65.5 बिलियन डॉलर की नेटवर्थ के साथ मुकेश अंबानी से एक स्थान नीचे 14वें नंबर पर हैं। इसी तरह, गौतम अडानी की दौलत और रैंकिंग में भी गिरावट आई है। गौतम अडानी की दौलत 55 बिलियन डॉलर के स्तर पर है और वह दुनिया के अरबपतियों की सूची में 23वें स्थान पर हैं।

आपको बता दें कि गौतम अडानी दो सप्ताह पहले तक दुनिया के टॉप 20 अरबपतियों के क्लब में शामिल थे और उनकी दौलत 62 बिलियन डॉलर को पार कर गई थी। (ये पढ़ें-कर्ज देती थी अनिल अंबानी की ये दो कंपनियां, फिर कारोबार समेटने की आ गई नौबत)

जेफ बेजोस टॉप परः हालांकि, अमेजन के फाउंडर जेफ बेजोस 197 बिलियन डॉलर के साथ दुनिया के सबसे बड़े अरबपति बने हुए हैं। वहीं, दूसरे स्थान पर टेस्ला के सीईओ एलन मस्क और तीसरे नंबर पर माइक्रोसॉफ्ट के बिलगेट्स हैं।

रिलायंस और अमेजन के बीच है विवादः आपको बता दें कि भारतीय अरबपति मुकेश अंबानी की एक डील को लेकर दुनिया के दौलतमंत जेफ बेजोस की अमेजन और फ्यूचर समूह के बीच विवाद चल रहा है। ये डील 24 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का है। इस डील के तहत फ्यूचर ग्रुप के रिटेल कारोबार का अधिग्रहण रिलायंस इंडस्ट्रीज करने वाली है। (ये पढ़ें-अडानी संभाल रहे हैं अंबानी का कारोबार)

हालांकि, इस पर अमेजन को आपत्ति है। अमेजन पहले से ही फ्यूचर ग्रुप की कंपनी में हिस्सेदार है। इसी को आधार बनाकर अमेजन ने डील का विरोध किया है। अमेजन ने इसके खिलाफ अलग-अलग अदालतों में दरवाजा भी खटखटाया है।

Next Stories
1 जब रामदेव की पतंजलि पर लगा 75 करोड़ रुपये का जुर्माना, ये थी वजह
2 निवेशकों को कोरोना ने दिया बड़ा झटका, रामदेव की कंपनी को हुआ इतना नुकसान
3 मुकेश अंबानी को बर्थडे पर मिली ये खबर, 24 हजार करोड़ की डील पर होगा असर
यह पढ़ा क्या?
X