ताज़ा खबर
 

सरकार को भुगतान के बाद रिजर्व बैंक का आपात कोष घटकर 1.96 लाख करोड़ रुपये रह गया: आरबीआई रिपोर्ट

रिजर्व बैंक के निदेशक मंडल ने विमल जालान समिति की रिपोर्ट के आधार पर अतिरिक्त राशि सरकार को हस्तांतरित करने का फैसला किया।

Author नई दिल्ली | Updated: August 29, 2019 9:38 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर। इमेज क्रेडिट: The Financial Express

रिजर्व बैंक का आकस्मिक कोष जून में समाप्त वर्ष में घटकर 1.96 लाख करोड़ रुपये रह गया। सरकार को रिजर्व बैंक से 52,000 करोड़ रुपये के अतिरिक्त भुगतान से उसकी आकस्मिकता निधि में यह कमी आई है। केद्रीय बैंक की 2018-19 की सालाना रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। रिजर्व बैंक का वित्त वर्ष जुलाई से जून होता है। यह वह कोष है जो केंद्रीय बैंक किसी आपात स्थिति से निपटने के लिये अपने पास रखता है।

रिजर्व बैंक के निदेशक मंडल ने विमल जालान समिति की रिपोर्ट के आधार पर अतिरिक्त राशि सरकार को हस्तांतरित करने का फैसला किया। समिति का गठन केंद्रीय बैंक के लिये उपयुक्त आर्थिक पूंजी नियम पर विचार करने और इस संबंध में जरूरी सिफारिशें देने के लिये किया गया था। रिपोर्ट के अनुसार 30 जून 2019 को समाप्त वित्त वर्ष में आकस्मिक कोष घटकर 1,96,344 करोड़ रुपये पर आ गया जो इससे पिछले साल इसी अवधि में 2,32,108 करोड़ रुपये पर था।

हालांकि, अतिरिक्त कोष में से 52,000 करोड़ रुपये का हस्तांतरण बाजार की उम्मीद से कम है। बाजार यह उम्मीद कर रहा था कि आरबीआई को अतिरिक्त पूंजी के रूप में एक लाख करोड़ (रिपीट एक लाख करोड़) रुपये से अधिक हस्तांतरित करने पड़ सकते हैं। जालान समिति ने अधिशेष वितरण नीति को उसके सकल बही खाता आकार के समक्ष आरक्षित पूंजी भंडार को 5.5 से 6.5 प्रतिशत के दायरे में रखने का लक्ष्य रखा है।

आरबीआई ने 52,000 करोड़ रुपये के अलावा अपने लाभ में से 1,23,000 करोड़ रुपये का भुगतान किया है। यह हाल में किये गये भुगतान के मुकाबले लगभग दोगुना है। रिपोर्ट के अनुसार रिजर्व बैंक की घरेलू स्रोत से आय 30 जून 2019 को समाप्त वित्त वर्ष में 132.07 प्रतिशत बढ़कर 1,18,078 करोड़ रुपये रही जो इससे पूर्व वित्त वर्ष में 50,880 करोड़ रुपये रही थी। आय बढ़ने का मुख्य कारण ब्याज आय है। इसके अलावा प्रतिभूतियों, तरलता समायोजन सुविधा/ सीमांत स्थायी सुविधा परिचालन के तहत शुद्ध ब्याज आय में वृद्धि हुई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 7th Pay Commission: त्यौहर के मौसम में Indian Railways से इन कर्मचारियों को तोहफा! संशोधित कर देगा पेंशन
2 RBI से मोदी को 1.76 लाख करोड़ के फंड को लेकर पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल ने दिया था इस्तीफा- पैनल सदस्य
3 Indian Economy को फिर लगेगा तगड़ा झटका, लौट सकता है लोन डूबने का दौर?
ये पढ़ा क्या?
X