ताज़ा खबर
 

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के कर्मचारियों को मिलेगा एक लाख रुपये का ब्याज मुक्त लोन, कोरोना संकट में नौकरी के लिए प्रोत्साहन

बैंक का कहना है कि कर्मचारियों को किसी मेडिकल जरूरत या अन्य जरूरी सामानों की खरीद के लिए 1 लाख रुपये के ब्याज मुक्त लोन का यह ऑफर दिया गया है।

कोरोना वायरस के संकट के बीच सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के कर्मचारियों को सौगात

सरकारी क्षेत्र के दिग्गज बैंक सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया ने अपने कर्मचारियों को एक लाख रुपये तक का ब्याज मुक्त लोन देने का फैसला लिया है। कोरोना वायरस के संकट के बीच भी मुश्किलों में काम करने के लिए प्रोत्साहन के तौर पर कर्मचारियों को यह ऑफर दिया गया है। बैंक का कहना है कि कर्मचारियों को किसी मेडिकल जरूरत या अन्य जरूरी सामानों की खरीद के लिए 1 लाख रुपये के ब्याज मुक्त लोन का यह ऑफर दिया गया है। बता दें कि पुलिस, चिकित्सकों, सफाई कर्मियों एवं बैंकिंग सेवाओं से जुड़े लोगों को सरकार ने कोरोना वारियर घोषित किया है।

देश में 25 मार्च से 14 अप्रैल तक 21 दिन का लॉकडाउन चल रहा है। इस दौरान सार्वजनिक परिवहन पूरी तरह से बंद है और इसके चलते बैंक कर्मचारियों के शाखाओं तक पहुंचना और सुचारू रूप से काम करना मुश्किल हो रहा है। ऐसी स्थितियों में भी उनके ड्यूटी पर पहुंचने और काम करने के जज्बे को प्रोत्साहित करने के लिए ही सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया ने यह फैसला लिया है। बैंक ने कहा कि वह एक महीने तक की सैलरी कर्मचारियों को लोन के तौर पर बिना ब्याज के ही दे रहा है, जो अधिकतम एक लाख रुपये होगा।

प्रोबेशन पीरियड पर काम करने वाले कर्मचारियों समेत सभी के लिए यह सुविधा लागू होगी। इसके अलावा लॉकडाउन के दौरान हर छह दिन के काम पर उन्हें एक स्पेशल लीव भी मिलेगी। यही नहीं गर्भवती एवं दिव्यांग स्टाफ को बैंक ने घर से ही काम करने की अनुमति भी दी है। हालांकि इस दौर में स्पेशल लीव पर गए या निलंबन झेल रहे कर्मचारियों को यह सुविधा नहीं मिलेगी। इसके अलावा ऐसे कर्मचारी जिनका पहले से लोन चल रहा है, उन्हें भी यह लाभ नहीं मिलेगा।

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: जानें-कोरोना वायरस से जुड़ी हर खबर । जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं | क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस? इन वेबसाइट और ऐप्स से पाएं कोरोना वायरस के सटीक आंकड़ों की जानकारी, दुनिया और भारत के हर राज्य की मिलेगी डिटेलकोरोना संक्रमण के बीच सुर्खियों में आए तबलीगी जमात और मरकज की कैसे हुई शुरुआत, जान‍िए

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कोरोना के संकट से निपटने के लिए ममता बनर्जी के सलाहकार होंगे नोबेल विजेता अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी
2 बिना राशन कार्ड मिलता नहीं अनाज, हजारों लोगों के सामने भूखों मरने की नौबत, 5 साल से अपडेट नहीं हुआ खाद्यान्न योजना के लाभार्थियों का डेटा
3 कोरोना वायरस की ऐसी पड़ी मार, देश के हर चौथे शख्स के सामने बेरोजगारी का संकट, 23.4 पर्सेंट लोगों से छिन सकती है जॉब