ताज़ा खबर
 

आय घोषणा योजना: सीबीडीटी सामान्य सवाल-जवाब का नया सेट जारी करेगा

योजना के तहत 30 सितंबर तक कालेधन की घोषणा करने के बाद कर और जुर्माने की 25 प्रतिशत की पहली किस्त नवंबर 2016 तक चुकानी होगी।

Author नई दिल्ली | August 19, 2016 12:56 AM
500 के पुराने नोटों की गिनती करता एक व्यक्ति। (चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।)

केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) देश के अंदर अघोषित धन सम्पत्ति रखने वालों को कर कानून के अनुपालन का एकबारगी अनुपालन की आय घोषणा योजना (आईडीएस) के संदर्भ में कुछ सामान्य सवालों के जवाबों का एक और सेट जारी करेगा। इस योजना के तहत लोग अपनी अघोषित धन सम्पत्ति की घोषणा 30 सितंबर तक कर सकते हैं। यह सामान्य तौर पर उठने वाले सावालों के जवाब (एफएक्यू) का इस तरह का पांचवां सेट है। इसे इसी सप्ताह जारी किए जाने की संभावना है। इसमें आय की घोषणा करने वालों को संपत्ति का मूल्यांकन और कर भुगतान प्रक्रिया के बारे में और ब्यौरा दिया जाएगा।

सीबीडीटी करदाताओं की और से पूछे जाने वाले सवाल और उनके जवाब वाले ऐसे चार सेट पहले ही जारी कर चुका है ताकि आय की घोषणा करने वाले संभावित करदाताओं के मन में किसी भी प्रकार की शंका को दूर किया जा सके। सरकार ने कुछ समय पहले ही इस योजना के तहत कर भुगतान के लिए समय सीमा को भी बढ़ा दिया है। घोषणा करने के बाद कर और जुर्माने का भुगतान अगले साल 30 सितंबर तक तीन किस्तों में किया जा सकता है।

योजना के तहत 30 सितंबर तक कालेधन की घोषणा करने के बाद कर और जुर्माने की 25 प्रतिशत की पहली किस्त नवंबर 2016 तक चुकानी होगी। उसके बाद 25 प्रतिशत की अगली किस्त 31 मार्च 2017 तथा शेष राशि का भुगतान 30 सितंबर 2017 तक करना होगा। इससे पहले कालाधन खुलासा करने वाली इस योजना के तहत पूरा कर और जुर्माने का भुगतान एकमुश्त 30 नवंबर तक करना था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App