ताज़ा खबर
 

कारों की बिक्री अगस्त में 9.53 फ़ीसद बढ़ी, मारुति सुजुकी सबसे आगे

नए मॉडलों विशेष तौर पर मारुति वितारा ब्रेजा और हुंदै क्रेटा जैसे वाहनों के साथ मुख्य तौर पर एसयूवी खंड में बिक्री दर सबसे तेज रही।

Author नई दिल्ली | September 8, 2016 17:30 pm
देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई)

देश में यात्री वाहनों की बिक्री इस बार अगस्त में लगातार 14वें महीने वृद्धि दर्ज की। अगस्त में वृद्धि 16.68 प्रतिशत रही। वाहन विनिर्माताओं के मंच सियाम ने इन रुझानों के बीच चालू वित्त वर्ष में यात्री वाहनों की बिक्री में वृद्धि का अपना अनुमान अनुमान बढ़ाकर 10-12 प्रतिशत कर दिया है। सोसायटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्यूफैक्चरर्स (सियाम) के आंकड़ों के मुताबिक यात्री वाहनों की बिक्री अगस्त में 2,58,722 इकाई रही जो पिछले साल अगस्त में 2,21,743 इकाई थी। इस बार अगस्त महीने में कारों की बिक्री 9.53 प्रतिशत बढ़कर 1,77,829 इकाई हो गई जो पिछले साल इसी माह 1,62,360 इकाई थी।

सियाम के महानिदेशक विष्णु माथुर ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘वाहन क्षेत्र में तेज सुधार हो रहा है और हम सभी वाहन खंडों में वृद्धि देख रहे हैं, अच्छे मॉनसून और सातवें वेतन आयोग ने सकारात्मक उपभोक्ता रुझान तैयार करने में योगदान किया।’ सियाम को उम्मीद है कि वित्त वर्ष 2016-17 में सवारी वाहनों में वृद्धि दर पिछले अनुमान से अधिक रहेगी। सियाम के उपमहानिदेशक सुगातो सेन ने कहा, ‘मूल रूप से हमने यात्री वाहनों में 11-13 प्रतिश्ता वृद्धि का अनुमान किया था जिसे बाद में घटाकर 6-8 प्रतिशत कर दिया था। जो स्थिति है उसे देखते हुए और अपने सदस्यों बातचीत के आधार पर अब माना जा रहा है कि वृद्धि दर अधिक रहेगी। 10-12 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज होनी चाहिए।’

इस बार अप्रैल-अगस्त में सवारी वाहनों की बिक्री 10.74 प्रतिशत बढ़कर 12,15,569 इकाई रही जो पिछले साल इसी अवधि में 10,97,704 इकाई थी। नए मॉडलों विशेष तौर पर मारुति वितारा ब्रेजा और हुंदै क्रेटा जैसे वाहनों के साथ मुख्य तौर पर एसयूवी खंड में बिक्री दर सबसे तेज रही। माथुर ने कहा कि इस बार वाहन उद्योग के लिए 3-4 साल में सबसे अच्छा त्योहारी मौसम हो सकता है। अगस्त में मारुति सुजुकी इंडिया की सवारी वाहनों की बिक्री घरेलू बाजार में 12.29 प्रतिशत बढ़कर 1,19,906 इकाई रही। कंपनी की कारों की बिक्री 4.41 प्रतिशत बढ़कर 90,269 हो गईं। पिछले साल इसी महीने मारुति ने 86,454 कारें बेची थीं। प्रतिद्वंद्वी कंपनी हुंदै मोटर्स इंडिया के सवारी वाहनों की बिक्री भी 6.66 प्रतिशत बढ़कर 43,201 इकाई हो गई। कंपनी की कार बिक्री 5.28 प्रतिशत बढ़कर 34,728 इकाई हो गई जो पिछले साल के इसी महीने 32,985 इकाई थी।

देश की प्रमुख यूटिलिटी वाहन कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा की सवारी वाहनों की बिक्री अगस्त में 28.51 प्रतिशत बढ़कर 18,246 इकाई हो गई। उसकी यूटिलिटी वाहन बिक्री 28.65 प्रतिशत बढ़कर 17,119 इकाई हो गई जो पिछले साल इसी महीने 13,307 इकाई थी। सियाम के मुताबिक अगस्त में कुल दोपहिया वाहनों की बिक्री 26.32 प्रतिशत बढ़कर 16,48,883 इकाई हो गई जो पिछले पिछले साल इसी महीने 13,05,348 इकाई थी। माथुर, ‘दोपहिया वाहन खंड में अच्छी वृद्धि दिखी क्योंकि अच्छे मॉनसून के कारण ग्रामीण बाजार में मोटरसाइकिल खंड में मांग लौटी है।’ सियाम के आंकड़े के मुताबिक मोटरसाइकिल बिक्री पिछले महीने 22.19 प्रतिशत बढ़कर 10,05,666 इकाई हो गई जो पिछले साल अगस्त में 8,23,051 इकाई थी। बाजार की प्रमुख कंपनी हीरो मोटोकॉर्प की बिक्री अगस्त 2016 में 25.91 प्रतिशत बढ़कर 5,20,226 इकाई हो गई जो पिछले साल के इसी महीने 4,13,169 इकाई थी। प्रतिद्वंद्वी कंपनी बजाज ऑटो की बिक्री 26.66 प्रतिशत बढ़कर 1,74,719 इकाई रही जो पिछले साल इसी महीने 1,37,948 इकाई थी।

होंडा मोटरसायकिल एंड स्कूटर इंडिया (एचएमएसआई) की मोटरसायकिल बिक्री पिछले महीने 1,29,926 इकाई रही जो पिछले साल अगस्त में 1,26,378 इकाई थी। स्कूटर खंड में कुल बिक्री 32.92 प्रतिशत बढ़कर 5,67,782 इकाई हो गई जो पिछले साल के इसी महीने 4,27,165 इकाई हो गई। बाजार की प्रमुख कंपनी एचएमएसआई का वृद्धि 36.29 प्रतिशत बढ़कर 3,36,363 इकाई हो गई जो पिछले साल के इसी महीने 2,46,791 इकाई थी। हीरो मोटोकार्प की स्कूटर बिक्री 70,96 प्रतिशत बढ़कर 81,015 इकाई हो गई जो पिछले साल इसी महीने 47,388 इकाई थी। चेन्नई की कंपनी, टीवीएस मोटर की स्कूटर बिक्री समीक्षाधीन अवधि में 7.92 प्रतिशत बढ़कर 73,761 इकाई हो गई जो पिछले अगस्त में 68,346 इकाई हो गई। सियाम ने कहा कि वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री 1.53 प्रतिशत बढ़कर 52,996 इकाई हो गई। उद्योग संगठन ने कहा कि विभिन्न खंडों में वाहनों की कुल बिक्री 23.72 प्रतिशत बढ़कर 20,10,794 इकाई हो गई जो अगस्त 2015 में 16,25,332 इकाई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App