ताज़ा खबर
 

उड़ने वाली कार की अगले महीने से सेल! जानें कितनी हो सकती है कीमत

कंपनी के सीईओ ने बताया कि कंपनी अगले महीने एक और कार TF-2 रिवील करने वाली है। टेराफुगिया ने पहले कहा था कि इसकी कीमत 2,79,000 अमेरिकी डॉलर (करीब 2.02 करोड़ रुपए) हो सकती है, लेकिन अब कीमत रिवाइज कर दी है।

टेराफुगिया की स्थापना 2006 में मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के स्नातकों ने की थी और बाद में वोल्वो की मूल कंपनी, चीनी निर्माता गेली ने 2017 में अधिग्रहण किया था।

कार अगर उड़ने लगे तो कितना अच्छा रहे। कहीं जाम लगे तो कार को उड़ाकर निकाल लो। पर अब यह भी मुमकिन होने जा रहा है। आप बिलकुल सही पढ़ रहे हैं, उड़ने वाली कार आने वाली है। अगले महीने मतलब अक्टूबर से इसकी प्री बुकिंग सेल है। टेराफुगिया ट्रांजिशन कार को आप चाहें तो अगले महीने से बुक करा सकते हैं। कंपनी के सीईओ ने बताया कि हम अक्टूबर से इसकी ओपन प्री सेल करने वाले हैं। अभी इसकी कीमत का खुलासा नहीं किया गया है। कंपनी के सीईओ ने बताया कि कंपनी अगले महीने एक और कार TF-2 रिवील करने वाली है। टेराफुगिया ने पहले कहा था कि इसकी कीमत 2,79,000 अमेरिकी डॉलर (करीब 2.02 करोड़ रुपए) हो सकती है। अब कंपनी ने इस कार की कीमत को रिवाइज कर दिया है। मतलब अब इसकी कीमत 3 से 4 लाख अमेरिकी डॉल हो सकती है। इस तरह देखा जाए तो इसकी कीमत 2.18 से लेकर 2.90 करोड़ रुपए हो सकती है।

टेराफुगिया ट्रांजिशन एक बार में हवा में 640 किलोमीटर तक की दूरी तय कर सकती है। इसकी हवा में टॉप स्पीड 160 किलोमीटर प्रति घंटा की होगी। इसमें हवा में उड़ने के लिए बूस्ट मोड दिया गया है। यह मोड हवा में उड़ने के लिए कार को ज्यादा पावर देगा। जबकि रोड पर चलने के लिए इसमें हाइब्रिड मोटर दी गई है। टेराफुगिया की स्थापना 2006 में मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के स्नातकों ने की थी और बाद में वोल्वो की मूल कंपनी, चीनी निर्माता गेली ने 2017 में अधिग्रहण किया था। मैसाचुसेट्स स्थित कंपनी ने जुलाई में घोषणा की कि वह अगले साल ट्रांजिशन का उत्पादन शुरू करने के लिए ट्रैक पर हैं।

आपको बता दें कि जेनेवा मोटर शो में डच वाहन निर्माता कंपनी पाल-वी ने दुनिया की पहली फ्लाइंग कार पेश कर दी है। यह फ्लाइंग कार 910 किलो वजन लेकर उड़ सकती है। इसकी बैगेज क्षमता 20 किलो है और फ्यूल टैंक की क्षमता 100 लीटर की है। यह कार न तो जेट इंधन से चलेगी और न ही यह ऑटोमैटिक है। इस कार को आपको मैन्युअली ही उड़ाना पड़ेगा। इस कार के बारे में बताया जा रहा है कि यह कार बहुत तेजी से काम करती है। यह कार महज 5 से 10 मिनट में फ्लाइंग मोड में आ जाती है। कंपनी इस कार को दो वेरिएंट्स— स्पोर्ट और पायोनियर में उपलब्ध कराएगी। कंपनी इस कार की पहली डिलीवरी 2019 में देगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App