ताज़ा खबर
 

गाड़ी में पी सिगरेट तो भरना होगा जुर्माना! जानिए ऐसे ही कुछ जरूरी ट्रैफिक नियम

ड्राइविंग के दौरान ट्रैफिक नियमों का पालन करना बेहद जरूरी होता है। इसके लिए ट्रैफिक पुलिस को तैनात किया गया है। लेकिन बहुत से ऐसे ट्रैफिक नियम होते हैं जिनसे शायद आप अनजान होंगे।

Author April 16, 2019 12:19 PM
सड़क पर कार चालक की जांच करता हुआ एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी। (Photo- Indian Express)

Traffic Rules Tips: ड्राइविंग के समय के ट्रैफिक नियमों का पालन करना बहुत जरूरी होता है। इससे न केवल बेहतर ढंग से ड्राइविंग होती है बल्कि दूसरों को भी किसी तरह की परेशानी नहीं होती है। लेकिन ज्यादातर लोग ट्रैफिक नियमों की अनदेखी कर ड्राइविंग करते हैं और मुश्किल में पड़ जाते हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे ट्रैफिक नियमों के बारे में बताएंगे जिन्हें जानना आपके लिए बेहद जरूरी है, तो आइये जानते हैं क्या है वो नियम —

1. यदि ड्राइविंग के समय ट्रैफिक पुलिस आपको रोकती है तो पुलिस के पास चालान बुक या फिर ई-चालान मशीन होना अनिवार्य है। यदि पुलिस के पास ये दोनों नहीं है तो उनके पास आपका चालान काटने का कोई अधिकार नहीं है।

2. ट्रैफिक पुलिस द्वारा आपके ड्राइविंग लाइसेंस, गाड़ी का रजिस्ट्रेशन पेपर या अन्य दस्तावेज दिखाना जरुरी होता है। लेकिन आप कोई भी दस्तावेज उन्हें सौंपने के लिए बाध्य नहीं हैं। मोटर वाहन अधिनियम के सेक्शन 130 के मुताबिक ऐसा करना अनिवार्य है।

3. यदि चालान काटते समय आपके पैसे नहीं है तो पुलिस आपका डीएल जमा करवा सकती है। इस दौरान आपको चालान की रशीद दी जाएगी और कोर्ट में आप चालान की राशि जमा करवा कर अपना ड्राइविंग लाइसेंस पुन: प्राप्त कर सकते हैं।

4. यदि आप अपनी कार में सिगरेट या शराब पीते हैं तो ये भी अपराध की श्रेणी में आता है। इसके लिए भी आपका चालान काटा जा सकता है। इसलिए भुल कर भी गाड़ी में न शराब का सेवन करें और न हीं धूम्रपान करें।

5. मोटर वाहन अधिनियम के तहत ओवरस्पीडिंग, नो पार्किंग जोन में गाड़ी खड़ी करना, बिना लाइसेंस ड्राइविंग, विक्षिप्त नंबर प्लेट, वैध प्रदूषण, बिना इंश्योरेंस का वाहन, बिना रजिस्ट्रेशन पेपर के ड्राइविंग अपराध की श्रेणी में आता है।

6. यदि ट्रैफिक पुलिस आपको रोकती है तो ध्यान दें कि उन्होनें बेल्ट पहना है या नहीं, यदि उक्त पुलिसकर्मी ने बेल्ट नहीं पहनी है तो उनसे पहचान पत्र मांगे। यदि वो पहचान पत्र नहीं दिखाते हैं तो आप अपने दस्तावेज दिखाने से मना कर सकते हैं।

7. ड्राइविंग के दौरान जब ट्रैफिक पुलिस आपको रोकती है तो उस दौरान यदि मौके पर सब-इंस्पेक्टर या उससे ऊपर के रैंक का कोई ट्रैफि​क पुलिस अधिकारी मौजूद है तो तत्काल आप जुर्माना भरकर केस को खत्म कर सकते हैं।

8. बिना किसी भी वैध रसीद को दिए बिना ट्रैफिक पुलिस के पास आपके ड्राइविंग लाइसेंस को रद्द करने का कोई अधिकार नहीं है। लेकिन यदि आप शराब पीकर, ड्राइविंग के वक्त मोबाइल का प्रयोग या फिर ट्रैफिक सिग्नल तोड़ते हैं तो पुलिस आपका लाइसेंस जब्त करने का अधिकार रखती है।

9. यदि ड्राइविंग के दौरान ट्रैफि​क पुलिस द्वारा आपको किसी अपराध के चलते रोका गया है या फिर हिरासते में लिया गया है तो 24 घंटे के भीतर आपको मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया जाना अनिवार्य है।

10. यदि ट्रैफिक पुलिस आपके साथ कोई अभद्रता करती है या फिर हिंसक रुख अख्तियार करती है, तो आपको इसके खिलाफ शिकायत करने का पूरा अधिकार है। ट्रैफिक पुलिस केवल नियमों और दस्तावेजों की जांच करने का अधिकार रखती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App