ताज़ा खबर
 

20 पर्सेंट तक महंगी हो जाएंगी डीजल गाड़ियां! TOYOTA ने बताई वजह

टीकेएम के उप प्रबंध निदेशक एन. राजा ने पीटीआई भाषा से कहा, ‘‘बीएस-चार से बीएस-छह में जाने से हमारे डीजल वाहनों के दाम 15 से 20 प्रतिशत तक बढ़ जाएंगे।’’ उन्होंने कहा कि इसके अलावा प्रतिकूल विनिमय दरों की वजह से कंपनी अपने वाहनों के दाम बढ़ाने पर विचार कर रही है।

Author नई दिल्ली | Updated: September 9, 2019 12:19 PM
फाइल फोटो

टोयोटा किर्लोस्कर मोटर (टीकेएम) ने कहा है कि अगले साल अप्रैल से भारत स्टेज-छह उत्सर्जन मानक लागू होने के बाद उसके डीजल वाहनों के दाम 15 से 20 प्रतिशत बढ़ जाएंगे। कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। टीकेएम जापान की वाहन कंपनी टोयोटा और किर्लोस्कर समूह का संयुक्त उद्यम है। कंपनी ने कहा कि उद्योग में वृद्धि के लिए जरूरी है कि दीर्घावधि के संरचनात्मक समाधान के लिए माल एवं सेवा कर (जीएसटी) की दर में कटौती की जाए।

टीकेएम के उप प्रबंध निदेशक एन. राजा ने पीटीआई भाषा से कहा, ‘‘बीएस-चार से बीएस-छह में जाने से हमारे डीजल वाहनों के दाम 15 से 20 प्रतिशत तक बढ़ जाएंगे।’’ उन्होंने कहा कि इसके अलावा प्रतिकूल विनिमय दरों की वजह से कंपनी अपने वाहनों के दाम बढ़ाने पर विचार कर रही है। अभी तक कंपनी ने कीमतों में वृद्धि को रोका हुआ है।

कंपनी के ज्यादातर लोकप्रिय मॉडल मसलन इनोवा और फॉर्च्यूनर डीजल पावरट्रेन के साथ बेचे जाते हैं। जनवरी से जुलाई 2019 तक कंपनी के कुल वाहनों की बिक्री में डीजल-पेट्रोल का अनुपात 82:18 था। वहीं यदि यात्री वाहन खंड की बात की जाए, तो पेट्रोल-डीजल अनुपात 50:50 का है। राजा ने कहा कि बाजार में सुस्ती की वजह से विनिर्माता और डीलर ग्राहकों को आर्किषत करने के लिए कई रियायतें दे रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 बंपर डिस्काउंट! Tata Safari से लेकर Harrier और Hexa जैसी गाड़ियों पर कंपनी दे रही है 90 हजार रुपये तक की छूट
2 सावधान! Royal Enfield बुलेट के साथ की यह ग़लती तो लग सकता है 35 हज़ार तक का जुर्माना! जानें पूरा मामला
3 Maruti Brezza अब नए पेट्रोल और CNG अवतार में होगी लांच! जानिए कितनी होगी कीमत