Safety tips for CNG car: know here in hindi what is the basic tips for CNG car, How to remain safe in CNG car - ताकि आपकी सीएनजी कार में कभी न लगे आग, सेफ्टी के लिए ध्यान में रखें ये बातें - Jansatta
ताज़ा खबर
 

ताकि आपकी सीएनजी कार में कभी न लगे आग, सेफ्टी के लिए ध्यान में रखें ये बातें

सीएनजी वाहन एक्सीडेंट के तुरंत बाद आग पकड़ सकता है। यदि नहीं, तो खतरा अभी भी जारी रह सकता है। अचानक लगा झटका सीएनजी किट की फिटिंग को ढीला कर सकता है।

कंपनी के बाहर की एक्सेसरीज से नुकसान हो सकता है।

CNG, कंप्रेस्ड नेचुरल गैस अब ऑटोमोबाइल के लिए पसंदीदा फ्यूल बनता जा रहा है, यह पॉकेट फ्रेंडली होने के साथ-साथ एनवायरमेंट फ्रेंडली भी है। सीएनजी अभी तक के मौजूद फ्यूल्स में सबसे ज्यादा क्लीन फ्यूल है। दिल्ली में 6 अगस्त 2018 को एक किलो सीएनजी की कीमत 40.61 रुपए है। यह डीजल और पेट्रोल से काफी सस्ती है। सीएनजी का इस्तेमाल करने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है। यह एक गैस है तो जाहिर है कि इससे कुछ खतरे भी होंगे। गैस में सबसे बड़ा खतरा आग लगने का होता है। आज हम आपको इसकी सेफ्टी से जुड़ी कुछ बातें बताने जा रहे हैं।

मेंटेनेंस की कमी: यह सीएनजी कारों में आग के प्रमुख कारणों में से एक है। नियमित समय पर कारों की जांच की जानी चाहिए। पुराने तारों में उनके इन्सुलेशन को खोने का खतरा होता है, जिससे शॉर्ट सर्किट होता है। प्री इंस्टॉल्ड सीएनजी किट की समय-समय पर जांच जरूरी है।

कार मालिक की लापरवाही: कार में धूम्रपान जैसी कुछ गतिविधियां, ज्वलनशील सामग्रियों को ले जाने, आपकी कार के पास फायरिंग क्रैकर्स, हीटर का लंबे समय तक उपयोग जोखिम भरा हो सकता है। सीएनजी में 540 डिग्री सेल्सियस का इग्निशन तापमान है, जो बहुत अधिक है।

अनऑथराइज्ड सीएनजी किट: कुछ कार मालिक अपनी कारों में सीएनजी किट फिट कराते हैं। पैसे बचाने के लिए लोग अक्सर सड़क के किनारे डीलरों और मिस्त्री से ऐसा कराते हैं। हालांकि, खराब क्वालिटी की किट और अनुचित फिटिंग रिसाव का कारण बन सकती है, जिसके परिणामस्वरूप आग लगती है।

कार खरीदने के बाद बाहर से एक्सेसरीज लगवाने पर: कंपनी के बाहर की एक्सेसरीज से नुकसान हो सकता है। इस तरह के सामान क्षति और आग का कारण होते हैं क्योंकि उनकी वोल्टेज और वर्तमान रेटिंग कार के मूल सहायक उपकरण और तारों के साथ ट्यून नहीं कर सकती हैं। इस तरह के सामान के लिए मूल उपकरण निर्माता (OEM) तारों के छेड़छाड़ से शॉर्ट सर्किट या स्पार्क हो सकता है।

CNG की लीकेज: फ्यूल टैंक की गलत फिटिंग और समय के साथ रिसाव जैसे कई कारणों से आपकी कार में सीएनजी लीक हो सकती है। लीकेज का सबसे अच्छा समाधान इसका तुरंत पता लगाना है और फिर एक अधिकृत सर्विस सेंटर पर इसे ठीक कराना है। सीएनजी में मौजूद गंध से लीकेज का आसानी से पता लगाया जा सकता है।

एक्सीडेंट: सीएनजी वाहन एक्सीडेंट के तुरंत बाद आग पकड़ सकता है। यदि नहीं, तो खतरा अभी भी जारी रह सकता है। अचानक लगा झटका सीएनजी किट की फिटिंग को ढीला कर सकता है। अगर यह ध्यान नहीं दिया गया तो यह आग पकड़ सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App