ताज़ा खबर
 

चालान से बचने के लिए Royal Enfield बुलेट पर लगा रखा था स्कूटर का नंबर प्लेट! किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं ये मामला

ये युवक अपनी Royal Enfield बुलेट पर फेक नंबर प्लेट लगाकर पिछले एक साल से घूम रहा था। इस नंबर प्लेट को आधिकारिक तौर पर एक स्कूटर के लिए जारी किया गया था।

Royal Enfield bullet fake number plate, Royal Enfield owner use fake number plate, Royal Enfield owner arrested in mysore, Royal Enfield news updatesRoyal Enfield बुलेट पर स्कूटर का नंबर प्लेट लगाकर घूमने वाला युवक। (Photo Source- starofmysore)

Royal Enfield Fake Number Plate: देश में नए मोटर व्हीकल एक्ट के लागू होने के बाद देश की ट्रैफिक पुलिस काफी मुस्तैद हो गई है। लेकिन इस मुस्तैदी के बीच एक बेहद ही चौकाने वाला मामला सामने आया है। जिसमें एक युवक चालान से बचने के लिए तकरीबन 1 साल से ट्रैफिक पुलिस की आंखों में धूल झोक रहा था। ये युवक पिछले एक साल से अपनी Royal Enfield बुलेट पर फर्जी नंबर प्लेट लगा कर घुम रहा था और इसके द्वारा किए जाने वाले ट्र्रैफिक नियमों के उलंघन का बिल किसी और पर फट रहा था। फिलहाल पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है, जानिए क्या है मामला —

ये मामला मैसूर का है, जहां का रहने वाले के.जी. गोपाल नाम के युवक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जानकारी के अनुसार ये युवक दिसंबर 2018 से अपने बुलेट पर (KA-09 HJ-0597) का नंबर प्लेट लगा कर घूम रहा था। इसके द्वारा किए गए ट्रैफिक नियमों के उलंघन का E-Challan का नोटिस उस व्यक्ति के पास पहुंच रहा था जिसके नाम से इस नंबर को RTO द्वारा जारी किया गया था।

दरअसल, ये इन सभी चालान का नोटिफिकेशन कुवेंपुनगर के रहने वाले डी. चंद्रू के पास पहुंच रहा था। वो इन चालान का नोटिफिकेश पाकर बेहद हैरान थें। जिसके बाद वो ट्रैफिक पुलिस के पास पहुंचें ताकि मामले की जांच की जा सके। पुलिस ने चंद्रू की शिकायत पर चालान संख्या की मदद से CCTV फुटेज को खंगाला, जिसमें पाया गया कि एक युवक Bullet चला रहा है जिस पर इसी नंबर प्लेट (KA-09 HJ-0597) का प्रयोग किया गया था।

सबसे हैरानी की बात ये है थी कि इस नंबर को चंद्रू की Honda Dio स्कूटर के लिए एलॉट किया गया था। पुलिस को मामला समझते देर नहीं लगी और तत्काल पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी गई और महज दो घंटे के भीतर ही पुलिस ने फर्जी नंबर प्लेट लगाकर घुमने वाले युवक को धर दबोचा। जांच में पाया गया कि युवक जो बुलेट चला रहा था उसका असली रजिस्ट्रेशन नंबर (KA-09 HJ-3597) था।

पूछताछ में आरोपी युवक ने बताया कि उसने ट्रैफिक चालान से बचने के लिए अपने नंबर प्लेट में बदलाव किया था। इस मामले में डी. चंद्रू को चालान के 39 नोटिफिकेशन ​मिल चुके थें। फिलहाल पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर उसकी बाइक को सीज कर दिया और मामले की छानबीन कर रही है।

ध्यान रखें: ये मामला किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं है, लेकिन इससे सबक लेने की जरूरत है। अब नए मोटर व्हीकल एक्ट के लागू होने के बाद देश के कई हिस्सों में CCTV कैमरों को लगा दिया गया है। जिसके बाद ई चालान के माध्यम से ट्रैफिक नियमों का उलंघन करने वालों पर नकेल कसी जा रही है। यदि आपके मोबाइल फोन पर भी अनावश्यक चालान की नोटिफिकेशन आती है तत्काल सजग हो जाएं और इस बात की सूचना ट्रैफिक पुलिस को दें। क्योंकि इस तरह का फर्जीवाड़ा करने वालों तादात कम नहीं है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 आ रहा है Hyundai Creta का नया अवतार! ट्वि‍न एग्जॉस्ट के साथ होगी लांच, फीचर्स से Kia Seltos को देगी टक्कर
2 Tata Altroz को लेकर बड़ा खुलासा: 22 जनवरी को होगी लांच! फीचर्स से Maruti Baleno को देगी टक्कर, कीमत होगी इतनी
3 महज 3,699 रुपये में घर लाएं Bajaj की बेस्ट सेलिंग बाइक, देती है 90 Kmpl का माइलेज! कीमत महज 33,500 रुपये
ये पढ़ा क्या?
X