ताज़ा खबर
 

अगर ऐसे चलाते हैं गाड़ी तो कार इंश्योरेंस का प्रीमियम होगा सस्ता!

IRDA को सौंपी रिपोर्ट में सब कमेटी ने कहा कि भारत में लोग निजी वाहनों का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं। ज्यादातर ऐसी कारें सड़कों पर दौड़ते हैं जिनमें एक ही आदमी बैठा होता है।

तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (एक्सप्रेस फोटो)

एक सब कमेटी ने इंश्योरेंस रेग्युलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (IRDA) को अपनी शिफारिशें भेजी हैं। अगर ये शिफारिशें मान ली गईं तो आने वाले समय में गाड़ियों का इंश्योरेंस प्रीमियम सेफ ड्राइविंग के आधार पर होगा। दरअसल एक सब कमेटी ने IRDA को भी भेजी अपनी रिपोर्ट में शिफारिश की है कि वाहनों का इंश्योरेंस प्रीमियम सेफ ड्राइविंग के आधार पर तय किया जाए। शिफारिश में कहा गया कि किसी वाहन का इंश्योरेंस करने से पहले यह देखा जाए कि उसने पूर्व में कितने एक्सीडेंट किए।

वाहन कितना किलोमीटर चला है, जो गाड़ी कम चली है उसका इंश्योरेंस प्रीमियम कम हो। इस बात की भी शिफारिश सब कमेटी ने की है। इसके अलावा जिस वाहन से कोई दुर्घटना ना हुई हो उसे प्रीमियम में कुछ छूट दी जाए। वहीं जो वाहन ज्यादा चला हो या जिसने एक्सीडेंट ज्यादा किए हो उसका इंश्योरेंस प्रीमियम ज्यादा किया जाएगा।

IRDA को सौंपी रिपोर्ट में सब कमेटी ने इस बारे में तर्क देते हुए बताया कि भारत में लोग निजी वाहनों का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं। ज्यादातर ऐसी कारें सड़कों पर दौड़ती हैं जिनमें एक ही आदमी बैठा होता है। इसका मतलब है कि बाहर जाने के लिए एक आदमी भी कार का इस्तेमाल करता है।

इसकी वजह से सड़कों पर जाम लगता है, सड़क दुर्घटनाएं भी ज्यादा होती है, प्रदूषण भी बढ़ता है। इसलिए इंश्योरेंस प्रीमियम में छूट लोगों को निजी वाहनों का इस्तेमाल कम करने के लिए प्रेरित करेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App