ताज़ा खबर
 

Maruti Suzuki की गाड़ियों के बिना खरीदें बन जाएंगे मालिक, कंपनी जल्द शुरू करेगी लीज पर देने की प्रक्रिया! पढ़ें पूरी जानकारी

वर्तमान में मारुति सुजुकी भारत में सबसे बड़ी डीलरशिप नेटवर्क के साथ उपलब्ध है। बता दें, लीज पर गाड़ी लेने वाले ग्राहक को सर्विस और बीमा कवर जैसी अन्य लागतों की चिंता किए बिना कार का मालिक बनने का अधिकार प्राप्त होता है,

Maruti car leasing plan, Be a owner of car without buying it, Maruti Suzuki to start soon car leasing plan in india, Maruti car leasing plan out, Maruti Suzuki, Maruti Suzuki car leasing programeMaruti Suzuki अपने नेक्सा डीलरशिप के माध्मय से प्रीमियम कारों की बिक्री करती है।

Maruti Suzuki: देश में इस समय COVID-19 लॉकडाउन के कारण ऑटोमोबाइल सेक्टर के हालात खराब है। जिन्हें सुधारने के लिए वाहन निर्माता कंपनियां गाड़ियों को सेल करने के नए नए रास्ते रास्ते निकाल रही है। एक अंग्रेजी वेबसाइट में छपी रिपोर्ट के मुताबिक देश की सबसे बड़ी वाहन निर्माता Maruti Suzuki अपने वाहनों को लीज पर देने की योजना पर काम कर रही है। अगर ऐसा होता है तो मारुति सुजुकी भारत में लीजिंग क्षेत्र में प्रवेश करने वाली पहली वाहन निर्माता नहीं होगी।

इससे पहले ही हुंडई मोटर इंडिया लिमिटेड इसकी घोषणा कर चुकी है। यहां तक ​​कि महिंद्रा एंड महिंद्रा भी भारत में लीज पर अपने व्हीकल लाइन-अप को पेश करती है। हुंडई और महिंद्रा का कार लीजिंग के लिए Revv और Zoomcar कंपनी से टाईअप है। इनके अलावा, बीएमडब्ल्यू और मर्सिडीज-बेंज जैसी लक्जरी कार निर्माता भी भारत में कस्टमाइज्ड लीजिंग प्लान के सा​थ मौजूद हैं। हालांकि मारुति की इस योजना को लोगू होने के अभी कुछ समय लग सकता है।

वर्तमान में मारुति सुजुकी भारत में सबसे बड़ी डीलरशिप नेटवर्क के साथ उपलब्ध है। बता दें, लीज पर गाड़ी लेने वाले ग्राहक को सर्विस और बीमा कवर जैसी अन्य लागतों की चिंता किए बिना कार का मालिक बनने का अधिकार प्राप्त होता है, और कार लीजिंग वर्तमान में अमेरिका जैसे देशों में बेहद लोकप्रिय है, लेकिन भारत ग्राहक अभी इस योजना पर कुछ खास विश्वास नहीं कर पाते हैं।

क्या है कार लीजिंग: बता दें, कार को लीज पर देना आमतौर पर कारों को किराए पर देने जैसा है, लेकिन कंपनी द्वारा जो लीजिंग योजना मुहैया कराई जाएगी उसकी अवधि कुछ सालों के लिए होगी। यानी आप हर महीने कुछ रकम भरके गाड़ी चला सकते हैं, और जब आप चाहे कंपनी को वापस कर सकते हैं। यानी अगर आप कार को खरीदते हैं, तो इसके लिए आपको शुरुआत में मोटी रकम जमा करनी होती है, जिसके बाद ही आपको लोन की सुविधा मुहैया कराई जाती है, लेकिन लीजिंग प्रक्रिया में आपको सिर्फ एक कार की ईएमआई(EMI) जितनी रकम देनी होती है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Suzuki ने भारत में लांच किया BS6 Gixxer 250 सीरीज, अपडेटेड इंजन से बढ़ी परफॉर्मेंस! जानें कीमत और फीचर्स
2 Cicli Olympia ने पेश की इलेक्ट्रिक साइकिल, सिंगल चार्ज में चलेगी 290Km! जानिए क्या है इसमें खास
3 Rolls Royce Cullinan की इस खिलौने जैसी दिखने वाली कार की कीमत में खरीद लेंगे Toyota Innova! जानें क्या है इसमें खास