ताज़ा खबर
 

Freedom Service Camp: मारुति कार धारकों के लिए खुशखबरी, ये स्पेशल ऑफर्स लाई कंपनी

मारुति का यह सर्विस कैंप पूरे भारत में मौजूद सभी मारुति के आधिकारिक डीलर-वर्कशॉप पर चल रहा है। यह पहल अपने ग्राहकों के साथ मारुति सुजुकी के रिश्ते को और मजबूत करने के लिए है।

इस पहल के माध्यम से ग्राहक डीलर-वर्कशॉप में जा सकते हैं और ज्यादा वारंटी, पार्ट्स, एक्सेसरीज और सर्विस लेबर चार्ज पर चल रहे ऑफर का फायदा उठा सकते हैं।

मानसून सर्विस कैंप के बाद अब मारुति सुजुकी ने अपने कस्टमर्स के लिए Freedom Service Camp शुरू कर दिया है। यह सर्विस कैंप 30 अगस्त तक चलेगा। मारुति का यह सर्विस कैंप पूरे भारत में मौजूद सभी मारुति के आधिकारिक डीलर-वर्कशॉप पर चल रहा है। यह पहल अपने ग्राहकों के साथ मारुति सुजुकी के रिश्ते को और मजबूत करने के लिए है। इस पहल के माध्यम से ग्राहक डीलर-वर्कशॉप में जा सकते हैं और ज्यादा वारंटी, पार्ट्स, एक्सेसरीज और सर्विस लेबर चार्ज पर चल रहे ऑफर का फायदा उठा सकते हैं। इसके अलावा, ग्राहक कार की बॉडी ठीक कराने के लिए लेबर चार्ज पर भी फायदा उठा सकते हैं। सर्विस कैंप में कारों की जांच इंजिनियर और टेक्निशियनों द्वारा की जाएगी। इसके अलावा यह सुनिश्चित किया जाएगा कि कार सर्विस कैंप से जब जाए तो बाद में उसमें कोई दिक्कत न आए।

कैंप पर मारुति सुजुकी इंडिया के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर सर्विस पार्थो बनर्जी ने कहा कि ग्राहक को मारुति की व्यावसायिक रणनीति के मूल में रखा गया है, इंडिपेंडेंस सर्विस कैंप यह सुनिश्चित करेगा कि ग्राहकों के वाहन कंप्लीमेंट्री सर्विस से अच्छी स्थिति में रहें। इस पर बनर्जी ने उम्मीद जताई कि मारुति के इस कदम को ग्राहकों द्वारा सराहा जाएगा।

मारुति की पहल: कम्युनिटी डेवलपमेंट प्रोग्राम के तहत मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड ने गुजरात में मेहसाना के हंसलपुर गांव के निवासियों को इंटीग्रेटेड वाटर सप्लाई सिस्टम की सुविधा दी है। इस सिस्टम को तैयार करने में करीब 3.3 करोड़ रुपये की लागत आई है। नए सिस्टम से हंसलपुर गांव के 520 घरों में लगातार शुद्ध पानी की सप्लाई हो सकेगी। गांव के 520 घरों में करीब 2800 लोग रहते हैं। वाटर सप्लाई सिस्टम के लिए अंडरग्राउंड स्टोरेज टैंक तैयार किया गया है और ओवर हेड वाटर सप्लाई टैंक और वाटर पाइपलाइन के जरिए घरों को पानी की सप्लाई की जाती है। पानी की सप्लाई के लिए समय निश्चित है और इसके हिसाब से परिवार अपनी जरूरत के लिए पानी ले रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App