ताज़ा खबर
 

Bikes Safety Features: बाइक्स में मिलने वाले ये सेफ्टी फीचर्स हैं बहुत काम के! जानिए किस तरह बचाते हैं ये आपकी जान?

Safety Features for Bikes: बीते 1 अक्टूबर से सरकार ने सभी दोपहिया वाहन निर्माता कंपनियों को निर्देशित ​भी किया है कि वो 125 सीसी से कम इंजन क्षमता की बाइक्स में कॉम्बी ब्रेकिंग सिस्टम और 150 सीसी या उससे उपर की बाइक में एंटी लॉक ब्रेकिंग सिस्टम का प्रयोग करना अनिवार्य होगा।

Author Published on: November 8, 2019 10:36 AM
बाइक्स में ये सेफ्टी फीचर्स किसी भी आपात स्थिति ड्राइविंग में खूब मदद करते हैं।

Important Safety Features for Bikes: बाइक ड्राइविंग का क्रेज तकरीबन हर युवा के जेहन में रहता है। हर कोई चाहता है कि वो तेज रफ्तार हवा से बातें करते हुए बाइक चलाए। लेकिन कई बार तकनीकी खामियों और फीचर्स की कमी के चलते लोग दुर्घटनाओं का भी शिकार हो जाते हैं। लेकिन अब ऐसा नहीं है, समय के साथ वाहन निर्माता कंपनियां अपनी बाइक्स में एक से बढ़कर एक शानदार फीचर्स को शामिल कर रही हैं। जो न केवल आपके ड्राइव को आरामदायक बनाते हैं बल्कि किसी भी आपात स्थिति में आपकी जान भी बचाते हैं। तो आइये जानते हैं उन फीचर्स के बारे में —

1- एंटी लॉक ब्रेकिंग सिस्टम (ABS): ये एक ऐसा फीचर है जिसका प्रयोग कार और बाइक दोनों में किया जाता है। हाल ही में सरकार ने सभी दोपहिया वाहन निर्माता कंपनियों को निर्देशित ​भी किया है कि वो 125 सीसी से कम इंजन क्षमता की बाइक्स में कॉम्बी ब्रेकिंग सिस्टम और 150 सीसी या उससे उपर की बाइक में एंटी लॉक ब्रेकिंग सिस्टम का प्रयोग जरूर करें। जब आप बचानक बाइक में ब्रेक लगाते हैं तो ABS बाइक के टायर को लॉक होने से रोकता है, जिससे बाइक के फिसलने का डर नहीं होता है। वहीं ऑफ रोड बाइक्स पर ABS बाइक की हैंडलिंग को भी कंट्रोल करता है।

जानिए क्या है एंटी लॉक ब्रेकिंग सिस्टम (ABS), कैसे करता है ये काम?

2- कम्बाइंड ब्रेकिंग सिस्टम (CBS): ये भी एक ब्रेकिंग सिस्टम ही है जो कि सामान्य तौर पर कम्यूटर बाइक्स में प्रयोग किया जाता है। 100 से लेकर 125 cc की बाइक्स में इसका इस्तेमाल किया जाता है। हालांकि एंटी लॉक ब्रेकिंग सिस्टम (ABS) कि तुलना में यह काफी प्रभावी होता है लेकिन इसका प्रयोग भी बेहद जरूरी होता है। ये भी बाइक को संतुलित ब्रेकिंग प्रदान करता है।

3- रियर लिफ्ट ऑफ़ प्रोटेक्शन (RLF): इस फीचर का प्रयोग 150cc बाइक्स में सबसे ज्यादा किया जाता है। कई बार तेज रफ्तार के दौरान जब आप अचानक से ब्रेक लगाते हैं तो बाइक का पिछला पहिया हवा में उठ जाता है। ये सेफ्टी फीचर बाइक में लगाए गए अचानक ब्रेक्स के प्रभाव को कम करता है और पिछले टायर को हवा में उठने से रोकता है।

4- ट्रैक्शन कंट्रोल: ये भी एक बेहद ही जरूरी फीचर है, जब आप किसी गीली जमीन या फिर कीचड़ भरे रास्तों पर ड्राइव करते हैं तो बाइक के फिसलने का डर रहता है। इस दौरान ये फीचर ट्रैक्शन को कम करता और ड्राइविंग को स्मूथ करता है। यह सेफ्टी फीचर आपको एक बेहतर ट्रैक्शन प्रदान करता है, ट्रैक्शन कंट्रोल फीचर आम तौर पर हाई एंड यानी महंगी बाइक्स जैसे Ducati और Bmw जैसी प्रीमियम बाइक्स में देखने को मिलता है।

5- व्हीकल स्टेबिलिटी कंट्रोल: ड्राइविंग के दौरान ये भी एक बेहद ही जरूरी फीचर है। ये फीचर इले​क्ट्रॉनिक उपकरण की मदद से बाइक के स्टेबल यानी की संतुलित करता है। ये डिवाइस बाइक के झुकने के दौरान चालक के राइडिंग स्टाइल, एक्जेलरेशन और पॉवर का आंकलन कर के ऑटोमैटिक तरीके से ब्रेक्स लगाने और ट्रैक्शन को कंट्रोल करने का कार्य करता है। इससे आपकी बाइक तेज रफ्तार में भी रोड पर संतुलित होकर चलती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Jawa 15 नवंबर को लांच करेगी नई बाइक Perak Bobber, पावर और परफॉर्मेंस में Royal Enfield से होगी दमदार! इतनी होगी कीमत
2 धोनी के बाद कपिल देव ने खरीदी Jeep की एसयूवी, जानिए सेलिब्रिटीज को क्यों पसंद आ रही है ये कंपनी!
3 Maruti S-Presso ने बिक्री में Brezza को भी पछाड़ा! एक महीने में बिक गई 10,634 यूनिट्स