ताज़ा खबर
 

Ford Motors ने तैयार किया कोरोना को कार से खत्म करने वाला सॉफ्टवेयर, खासतौर पर पुलिस के वाहनों में किया जाएगा इस्तेमाल!

फोर्ड मोटर्स कंपनी ने कोरोना से लड़ने के लिए नया हीटेड सॉफ्टवेयर डिज़ाइन किया है। जिसे खासतौर पर अमेरिकी पुलिस की गाड़ियों के लिए डिज़ाइन किया गया है।

Ford Develops New Technology That Kills Coronavirus, Ford's new software will coronavirus in just 15min, Ford devlops new software for coronavirus, Ford develops new software for coronavirus,Ford India, Ford Motorsदेखा जाए तो यह एक बेहद ही सरल उपाय है,

कोरोना वायरस महामारी ने मोटर वाहन उद्योग को काफी प्रभावित किया है, दुनिया भर के प्लांट और डीलरशिप लगभग 2 महीने के बाद अब फिर से शुरू किए गए हैं। हालांकि इस बीच बहुत से लोगों की नौकरी गई है, जिसके पीछे कारों की मार्केट में डिमांड कम ​होना बड़ा कारण रहा है। फिलहाल इस वायरस को फैलने से रोकने के लिए सिर्फ सोशल डिस्टेंसिंग और सेनिटाइजेशन ही एकमात्र उपाय है, लेकिन सभी कंपनियां अपने-अपने तरीके से इससे लड़ने के रास्ते जरूर खोज रही हैं।

फोर्ड मोटर्स कंपनी ने कोरोना से लड़ने के लिए नया हीटेड सॉफ्टवेयर डिज़ाइन किया है। जिसे खासतौर पर अमेरिकी पुलिस कारों के लिए डिज़ाइन किया गया है। इस सॉफ्टवेयर की मदद से कार के केबिन को 15 मिनट के लिए 53 डिग्री सेल्सियस पर गर्म किया जाएगा। कंपनी का दावा है कि 15 मिनट की अ​वधि के दौरान कैबिन में वायरस के संक्रमण का खतरा 99 प्रतिशत तक कम हो जाएगा। वर्तमान में इस स्मार्ट वाहन तकनीक का प्रयोग अमेरिका, कनाडा और दुनिया भर के अन्य देशों में सभी 2013-19 पुलिस इंटरसेप्टर यूटिलिटी वाहनों पर किया जाएगा।

देखा जाए तो यह एक बेहद ही सरल उपाय है, इसमें बस वाहन के इंटीरियर को 15 मिनट के लिए गर्म करना है, इसके साथ ही यह सॉफ्टवेयर 15 मिनट के लिए 133 डिग्री फ़ारेनहाइट यानी (53 डिग्री सेल्सियस) तापमान तक ही सीमित है। इस सॉफ्टवेयर को फोर्ड ने ओहियो स्टेट यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर तैयार किया है। जिसका मकसद दुनिया भर की पुलिस को इस संक्रमण के खतरे से बचाना है।

कोरोना वायरस दुनिया भर में फैल चुका है, अब तक इसके संक्रमण से लाखों लोगों की जान जा चुकी है। लेकिन अभी तक इसका कोई इलाज नहीं मिल पाया है। भारत में इसे संक्रमित लोगों का आंकड़ा 1.5 लाख के पार पहुंच चुका है। जहां पहले 24 घंटो में महज 2 सं 3 हजार केस सामने आ रहे थे, वहीं अब यह आंकड़ा 6 से 7 हजार प्रतिदिन पहुंच चुका है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Royal Enfield का धमाकेदार ऑफर: महज 15,000 रुपये देकर घर लाएं दमदार Bullet और Classic 350! जानें पूरी डिटेल
2 लॉकडाउन में करते हैं ड्राइविंग तो हो जाएं सतर्क, दुर्घटना होने पर बीमा कंपनियां इंश्योरेंस क्लेम को कर सकती हैं रिजेक्ट!
3 Gemopai ला रहा है सबसे सस्ता Miso इलेक्ट्रिक स्कूटर, सिंगल चार्ज में चलेगी 70Km! जानिए कीमत और फीचर्स की पूरी डिटेल
IPL 2020 LIVE
X