ताज़ा खबर
 

Corona के कहर के बीच Droom का दावा- 999 रुपए में करेंगे गाड़ियों को “वायरस प्रूफ”

वर्तमान में Droom Corona Shield सर्विस सिर्फ दिल्ली में उपलब्ध है, इससे मिलने वाली प्रतिक्रिया के आधार पर इसे अन्य शहरों और राज्यों में भी पेश किया जा सकता है।

Droom Corona Shield, Droom Corona virus sheild, Coronavirus alert, Coronavirus alert in india, Droom Corona virus sheild, Droom Corona virus sheild, Coronavirus alert in india, Coronavirus sheild for car, Droom Coronavirus shield , Coronovirus death in india, Coronavirus deaths all over the worldCoronavirus In India: कोरोना वायरस से पूरी दुनिया में खौफ का माहौल है।

दुनिया भर में ​कोरोना वायरस ने कोहराम मचा रखा है, लगातार बढ़ रहे मौत के आंकड़े ने लोगों को अपने ही घर में कैद कर दिया है। इस भयावह बीमारी से निपटने ​के लिए यूज्ड मोटरसाइकिल के लिए प्रसिद्व वेबसाइट Droom ने वाहनों के लिए एंटीमाइक्रोबियल सरफेस प्रोटेक्शन शील्ड (Antimicrobial Surface Protections shield) को पेश किश है। यह शिल्ड 4 महीने तक SARS और अन्य छोटी बूंद जितने वायरस के खिलाफ प्रभावी साबित होगी। जिसकी कीमत महज 999 से शुरू होती है।

Droom Corona ऑटोमोबाइल सेक्टर के लिए एक उपचार वह तकनीक है जो बैक्टीरिया, यीस्ट, मोल्ड जैसे सूक्ष्मजीवों के विकास को रोककर हानिकारक वायरस को कार के अंदर आने से रोकती है। इस शिल्ड की लेयर के जरिए एक्स्ट्रा हाइजीन का ध्यान रखा जाएगा। जो 99.99% माइक्रोबियल की दर के साथ स्वच्छता का ध्यान रखेगी।

Droom की Corona Shield में AEGIS Microbe Shield तकनीक का उपयोग किया गया है। जो सूक्ष्मजीवों के विकास को नियंत्रित करने के लिए कार को पूरी तरह से साफ कर सकती है। वर्तमान में यह सर्विस सिर्फ दिल्ली में उपलब्ध है, इससे मिलने वाली प्रतिक्रिया के आधार पर इसे अन्य शहरों और राज्यों में भी पेश किया जा सकता है। कीमत की बात करें तो दोपहियां बाइक और स्कूटर के लिए यह शिल्ड 499 रुपये, 2 व्हीलर सुपरबाइक के लिए कीमत 699, हैचबैक के लिए कीमत 999 रुपये और सेडान के लिए कीमत 1399 रुपये और एसयूवी और लग्जरी कार के लिए कीमत 1799 रुपये रखी गई है। बता दें, एक बार खरीदने के बाद यह कम से कम 4 महीने के लिए प्रभावी होगी।

इस नई सर्विस के शुभारंभ पर बोलते हुए वीपी एंटरप्राइज एंड स्ट्रेटजी इन ड्रूम के अध्यक्ष अक्षय सिंह ने कहा कि, “ हाथ से किसी भी सतह को छूने से बैक्टीरिया का आना किसी भी संक्रमण का पहला कारण है। COVID-19 या कोरोनावायरस 4 दिनों तक एक ही ठोस सतह पर रहने में सक्षम है। जबकि अन्य वायरस 9 दिनों तक ही जीवित रह सकते हैं। इसलिए लगातार 14 दिनों के क्वारंन्टाइन के बाद जब लोग अपने घरों से बाहर निकलें तो यह सुनिश्चित करना जरूरी है कि उनके प्राइवेट वाहनों में कोई वायरस न हो। ”

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Royal Enfield की नई BS6 Bullet 350 फ्यूल इंजेक्शन सिस्टम (FI) के साथ होगी पेश, लांच से पहले ही हुआ कीमत का खुलासा! जानें पूरी डिटेल
2 Bajaj Dominar Vs Royal Enfield 350 दोनों बाइक्स में कौन-सी है दमदार, पढ़ें फीचर्स, कीमत और पावर की पूरी डिटेल!
3 Renault Kwid और Triber पर मिल रहा है भारी डिस्काउंट, देखें आपके बजट में कौन-सी कार होगी फिट!