ताज़ा खबर
 

CMEIR ला रहा है खेतों के लिए इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर, कीमत होगी महज 1 लाख रुपये! जानिए क्या होगा खास

CMEIR,(केंद्रीय यांत्रिक अभियांत्रिकी अनुसंधान संस्थान) इस ट्रैक्टर पर काम कर रहा है। इस ट्रैक्टर में लिथियम बैटरी का प्रयोग किया गया है। एक बार इसे पूरी तरह चार्ज करने पर ट्रैक्टर आसानी से 1 घंटा तक चलेगा।

CMEIR electric tractor, electric tractor price, electric tractor motor range, electric tractor launch date, CSIR electric tractor, electric tractor detailप्रतिकात्मक तस्वीर: इस इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर को तैयार होने में अभी समय लगेगा।

Electric Tractor: देश भर में इलेक्ट्रिक वाहनों की मांग बढ़ रही है। इलेक्ट्रिकरण का ये चलन सड़क से अगल हट कर अब खेतों तक पुहंचने वाला है। CSIR-CMEIR, सीएसआईआर-केंद्रीय यांत्रिक अभियांत्रिकी अनुसंधान संस्थान छोटे खेतों के लिये कम शक्ति के इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर को तैयार कर रहा है। सबसे खास बात ये होगी कि इसकी कीमत महज 1 लाख रुपये से थोड़ी ज्यादा होगी।

जब इस ट्रैक्टर को पेश किया जाएगा उस वक्त ये घरेलू बाजार में उपलब्ध सबसे सस्ता ट्रैक्टर होगा। सरकारी शोध और विकास इकाई पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर कारखाने में एक साल के भीतर ट्रैक्टर का परीक्षण करने की योजना बना रही है।

CSIR – (Central Mechanical Engineering Research Institute) के निदेशक हरीश हीरानी ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हम 10 हार्स पावर (अश्व शक्ति) के बैटरी चालित छोटे ट्रैक्टर के विकास पर काम कर रहे हैं। हम कम वजन के उत्पाद बनाने पर काम कर रहे हैं जो उन किसानों के लिये उपयोग होगी जिनके पास जोत का आकार छोटा है।’’

उन्होंने कहा कि शोधकर्ता अगले एक साल में इसके पहले सफल परीक्षण की योजना बना रहे हैं। हीरानी ने कहा, ‘इस ट्रैक्टर में लिथियम बैटरी का प्रयोग किया गया है। एक बार इसे पूरी तरह चार्ज करने पर ट्रैक्टर आसानी से 1 घंटा तक चलेगा।’’ ट्रैक्टर की लागत के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि इसकी उत्पादन 1 लाख रुपये प्रति इकाई होगी।

हालांकि हीरानी ने कहा कि यह बिक्री मूल्य नहीं है। सामान्य तौर पर जो कंपनी हमने प्रौद्योगिकी करती है, वह कुछ ऊंचे दाम पर इसे बेचती है। उन्होंने कहा कि संस्थान बैटरी परिचालित ट्रैक्टर विकसित करने के लिये करीब 30 लाख रुपये निवेश कर रहा है। ट्रैक्टर के लिये चार्जिंग स्टेशन के बारे में हीरानी ने कहा कि वे खेतों में सौर ऊर्जा चालित चार्जिंग स्टेशन बनाने पर काम कर रहे हैं।

इनपुट: भाषा

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Maruti XL6 खरीदें या Ertiga! जानिए कौन है आपके बजट में सबसे बेहतर MPV
2 Kia Seltos भारत में हुई लांच, देती है 21 Kmpl का माइलेज! कम कीमत में Hyundai Creta को देगी टक्कर
3 मंदी में भी Hyundai Grand i10 Nios ने लांच होते ही मचाई धूम! बुक हुईं 5,000 यूनिट्स
ये पढ़ा क्या?
X